बड़ी ख़बरें

यूपी चुनावः जामा मस्जिद के इमाम ने बसपा को दिया समर्थन

TricityToday Correspondent/New Delhi


दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बहुजन समाज पार्टी को समर्थन देने की घोषणा कर दी है। इमाम बुखारी ने कहा है कि समाजवादी पार्टी के दौर में यूपी की स्थिति खराब हुई है। इमाम बुखारी का बीएसपी को समर्थन देने का ऐलान ऐसे समय में आया है, जब उत्तर प्रदेश में गुरूवार की शाम पहले चरण के चुनाव का प्रचार थमा है।

अहमद बुखारी ने अपने समर्थकों से एसपी के खिलाफ वोट करने की अपील की है। बुखारी ने अखिलेश सरकार से पूछा कि उन्होंने पांच साल में मुसलमानों का क्या दिया है। सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया। इससे पहले गुरुवार को राष्ट्रीय उलेमा काउंसिल ने भी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी को समर्थन देने का ऐलान किया है। बीएसपी को समर्थन के ऐलान के बाद काउंसिल की तरफ से 84 विधानसभा सीटों पर घोषित गए उम्मीदवारों के नाम वापस ले लिए हैं।

राज्य के पिछले विधानसभा चुनाव में इमाम बुखारी ने समाजवादी पार्टी का समर्थन किया था और मुलायम सिंह यादव के साथ मंच भी साझा किया था। 2012 में इमाम बुखारी के दामाद उमर अली खान समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़े थे। वह चुनाव हार गए थे। लेकिन बाद में समाजवादी पार्टी ने अपने कोटे से खान को एमएलसी भी बनवाया। बुखारी और सपा में दूरियां बढ़ती गईं। पार्टी के नेता आजम खान ने तो इमाम बुखारी को आईएसआई का एजेंट होने तक का आरोप लगाया।

403 सीटों वाले यूपी विधानसभा के लिए 7 चरणों में वोट डाले जाएंगे। पहले चरण में 11 फरवरी को 73 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे। पहले चरण में जिन सीटों पर चुनाव होने हैं वे सभी पश्चिमी यूपी की हैं और इन सीटों पर मुस्लिम मतों का अच्छा-खासा प्रभाव है। इस चरण के लिए गुरूवार को ही प्रचार थमा है।