बड़ी ख़बरें

जानिए सबसे ज्यादा और सबसे कम वोटिंग वाली विधान सभा सीटें, नोएडा सीट सबसे पीछे

TricityToday Correspondent


यूपी विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 15 जिलों में मतदान खत्म हो गया हैै। इस बार रिकाॅर्ड 64.12 फीसदी मतदान हुआ। 73 विधानसभा सीटों में से सबसे ज्यादा मतदान आगरा की फतेहाबाद सीट पर हुआ। यहां 71.18 परसेंट वोटिंग हुई। इसके बाद दूसरे नंबर पर हापुड़ की गढ़मुक्तेश्वर और मेरठ की किठौर, सरधना और सिवालखास सीट रहीं। इन चारों सीटों पर 70 फीसदी मतदान हुआ। तीसरे नंबर पर शामिल की कैराना सीट रही। यहां 69.36 परसेंट वोटिंग हुई।

इसके बाद मुजफ्फरनगर की खतौली सीट पर 69 परसेंट, आगरा फतेहपुर सीकरी में 68 परसेंट, फिरोजाबाद की तुंडला में 68, आगरा कैंट में 67, आगरा के एतमादपुर में 67, अलीगढ़ के बारौली में 67, बुलंदशहर में 67, शामली में 67 और मथुरा के मांट में 67 फीसदी वोट पड़े। फिरोजाबाद की जसराणा में 66.70 फीसदी, हाथरस में 66.20 और सादाबाद में 66.10 फीसदी वोटिंग हुई। मथुरा की गोवर्धन और छाता में 66 फीसदी वोट पड़े। बुलंदशहर के खुर्जा, एटा की जलेसर और मुजफ्फरनगर की बुढ़ाना सीट पर 66 फीसदी वोटिंग हुई।

ये हैं सबसे कम वोटिंग वाली विधानसभा सीट--
शनिवार को हुई वोटिंग में नोएडा विधानसभा सीट 73 सीटों में से सबसे नीचे है। नोएडा सीट पर सिर्फ 51 परसेंट वोटिंग हुई। दूसरे नंबर पर गाजियाबाद की साहिबाबाद रही। साहिबाबाद विधानसभा सीट वोटर संख्या के हिसाब से सबसे बड़ी है लेकिन यहां सिर्फ 52.50 फीसदी वोट पड़े। तीसरे नंबर पर गाजियाबाद की ही लोनी में सिर्फ 55 फीसदी वोटिंग हुई। इसके बाद गाजियाबाद शहर में 57 फीसदी वोटिंग हुई।