बड़ी ख़बरें

Greater Noida : चार महीने से वेतन नही मिलने पर मोज़र बेयर कम्पनी के कर्मचारी सड़क पर उतरे

Tricity Today Correspondent/Greater Noida

चार महीनों से वेतन नही मिलने और दो महीने से झूठे आश्वाशन से परेशान होकर सड़क कर्मचारी सड़क पर उतर आये। लगभग तीन घंटो तक डीएससी रोड जाम रहा, जिससे आने और जाने वाले दोनों तरफ की सड़क पर कर्मचारी बैठ गए। हालांकि लगभग करीब तीन धंटे के प्रदर्शन के बाद पुलिस प्रशासन ने कम्पनी कर्मचारी को आश्वासन पर सड़क से हटने में सफल हुये। 

ग्रेटर नोएडा के मोज़र बेयर गोलचककर पर आज दोपहर करीब 12 बजे के आस पास मोज़र बेयर के कर्मचारी सड़क पर उतर आये। जिससे दोनों तरफ के डीएससी जाम हो गया। पुलिस ने जाम खुलवाने की काफी कोशिश की लेकिन फिर भी पुलिस को रूट डाइवर्ट करने के करीब 3 घंटे लगे। 

कम्पनी कर्मचारियों ने बताया की उन्हें 4 महीने से वतन नहीं मिला, और करींब दो महीने से आज कल, आज कल का आश्वाशन दे रहे है। पीड़ित कर्मचारियों ने बताया की उनके घर में खाने के लिए अनाज भी नहीं है। कंपनी कर्मचारियों ने आरोप लगाया कि हमारा मुकदमा एनीसीएलटी में चल रहा है। लेकिन जिस अधिकारी को जांच में नियुक्त किया गया है। वह कंपनी के साथ मिलकर काम कर रहा है, हमारी सुनवाई नहीं की जा रही है। इसी बात पर गुस्सा कर्मचारियों ने सड़क पर भी थोड़ा फोड़ी की। 

कंपनी कर्मचारियों का कहना है की नियुक्त किये गये अधिकारी की पत्नी कंपनी में एडवाइजर के तौर पर कार्यरत है। जिसके कारण सही तौर पर जांच नहीं की जा रही है। दोपहर का समय होने से सड़क पर करीब दो किलोमीटर तक लंबा जाम लग गया। स्कूलों से निकली प्राईवेट वैन और बसे जाम में फंस गई। वहीं पुलिस ने सुरजपुर और परीचौक से यातायात को सेक्टरों की ओर डायवर्ड कर दिया। जिससे दो धंटे बाद जाम पर काबू पाया जा सका।

कंपनी कर्मचारियों ने आरोप लगाया कि नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल के आईआरपी अधिकारी अंतरिम रिजूलेशन प्रोफेशन देवेन्द्र सिंह को आज आकर कर्मचारियों से माटिंग करनी थी लेकिन वह नहीं आये जिसके बाद कर्मचारी सड़क पर उतर आये। एसडीएम दादरी अमित सिंह और सीओ अमित किशोर श्रीवास्तव ने कंपनी कर्मचारियों से सड़क से हटने की अपील की लेकिन बड़ी मशक्कत के बाद कंपनी कर्मचारी सड़क से उठने को राजी हुये।