बड़ी ख़बरें

सुथियाना गांव के मां भगवती वाषणी मंदिर में हुआ श्रीमद भागवत कथा का विशाल आयोजन

Mayank Tawer

ग्रेटर नोएडा के सुथियाना गांव में स्थित मां भगवती वाषणी मंदिर में आज 18 मार्च से विशाल श्रीमद भागवत कथा का आयोजन किया गया। जिसमें मां भगवती वाषणी मंदिर के संचालक श्री 1008 स्वामी शिववन जी महाराज आने वालों भक्तजनों के लिए 9 दिनों तक श्रीमद भागवत कथा आयोजन करेगें।

ग्रेटर नोएडा के सुथियाना में स्थित मां भगवती वाषणी मंदिर में आज से विशाल श्रीमद भागवत कथा का आयोजन हुआ। मां भगवती वाषणी मंदिर के संचालक श्री 1008 स्वामी शिववन जी महाराज ने कथा का शुभराम्भ करके श्रीमद भागवत कथा सुनने आये भक्तों को प्रथम दिन में मां शैली पुत्री जगत जननी जगदम्बा माता की महिमा बताते हुऐ सर्प यज्ञ और रूद्रार्श का महत्व बताया।

श्रीमद भागवत कथा में 1008 स्वामी शिववन जी महाराज ने श्रीमद भागवत कथा के माध्यम से नारी शक्ति का वर्णन किया है। उन्होंने बताया कि वेदों के अनुसार नारी शक्ति ने अनेकों रूप धारण करके संसार की रक्षा की है। उसी प्रकार जगदम्बा माता जगत के कल्याण हेतु प्रकट हुई हैं। चाहे वह राक्षस समूह की पीड़ाओं से देवताओं को छुटकारा दिलाना हो या फिर जीवन चक्र में नाना विधि दुःखों से घिरे मानव को रोग, शोक, दुखों को दूर करने की बात हो, माँ भवानी का रूप इतना कल्याण कारी है, कि इनके दर्शन पूजन से व्यक्ति को वांछित फलों की प्राप्ति होती है। 

वही मां शैली पुत्री जगत जननी जगदम्बा माता की प्रत्येक नारी संसार के लिये देवी समान है लेकिन कुछ लोग लड़कियों को अपने गर्भ में ही मरवा देते है, जो अत्यन्त दुखदायक है। उन्होंने बताया कि,

हमको अपनी सोच बदलनी होगी इस संसार को बचाने के लिये नारी की रक्षा अत्यंत आवश्यक है। जिस प्रकार वेदों में नारी ने बुराईयों का अंत किया था उसी प्रकार घर में कन्या के पैदा होने से घर के सारे दुख दूर होते हैं। नारी की संसार की जननी है, नारी नही तो कुछ नही।

आज के इस विशाल श्रीमद भागवत कथा के पहले दिन में मुख्यतौर पर ललित वन जी महाराज, सुनील पंडित जी, सतेन्द्र वन जी, मानसिंह यादव, रामकुमार अवाना, गजब सिंह भाटी, पूजा भटट, मलखान सिंह, बबली, नरेंद्र कश्यप और दयाचंद कुमार आदि सैकडोें लोग मौजूद थे।