बड़ी ख़बरें

ग्रेटर नोएडा: अपने पति को इंसाफ दिलाने के लिए दर-दर भटक रही पीड़ित मोनिका

Tricity Today Correspondent

ग्रेटर नोएडा थाने क्षेत्र का एक बहुत ही गंभीर मामला सामने आया है। जहाँ एक महिला के पति पर जानलेवा हमला किया गया, महिला के पति के सिर में 20 टांके आये है और पुलिस मामूली चोट बताकर FIR दर्ज करने से इंकार कर रही है। पीड़ित महिला ने पूरे मामले की शिकायत गौतम बुद्ध नगर के जिलाधिकारी से की है।

पीड़ित परिवार मूलरूप से मेरठ के जसड गोटका गांव का रहने वाला है। पत्नी मोनिका देवी और पति अनिल कुमार ग्रेटर नोएडा में काफी समय पहले पहले काम के सिलसिले में आये थे। पीड़ित व्यक्ति ग्रेटर नोएडा के सिरसा गांव में चल रहे सड़क निर्माण के क्रैन ऑपरेटर का काम कर रहा है।

पीड़ित महिला मोनिका का कहना है कि मेरे पति अनिल कुमार के सिर पर उनके साथ काम करने वाले 2 युवकों ने लोहे की रोड से जानलेवा हमला किया, वह अब ग्रेटर नोएडा के AIMS अस्पताल में भर्ती है और पीड़ित के सिर में 20 टांके आये है। लेकिन ग्रेटर नोएडा पुलिस इसे मामूली चोट बताकर FIR दर्ज करने से मना कर रही है।

पीड़ित महिला का आरोप है कि 'पुलिस आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज नही कर रही है और आरोपियों के साथ फैसला करने के लिये दवाब बना रही है। ग्रेटर नोएडा थाना SO मुझे 4 दिनों से गुमराह कर रहा है, महिला का कहना है कि पुलिस आरोपियों से मिली हुई है और 20 टांके वाली जानलेवा चोट को मामूली चोट बताकर टाल रही है'।

महिला का अस्पताल के खिलाफ आरोप है कि 'AIMS अस्पताल के डॉक्टर अमित गोयल ने मेरे पति का मेडिकल बनाकर नही दिया। इतना ही नही मेडिकल के लिये ज्यादा कहने पर अमित गोयल रिश्वत के रूप में 10,000 रुपये मांग रहे है'।

पीड़ित महिला का कहना है कि मैने जब अपने पति को डिस्चार्ज के लिए बोला तो मुझसे डॉक्टर का कहना है की  'यह कही नही जा सकता अगर ले जाना है तो पहले लिखकर दे, अगर रास्ते मे यह मर गया तो अस्पताल की कोई जिम्मेदारी नही है'।

पीड़ित महिला ने पूरे मामले की जानकारी गौतम बुद्ध नगर के जिलाधिकारी दो दी, और अपने पति को न्याय दिलाने के लिए व डॉक्टर अमित गोयल और ग्रेटर नोएडा पुलिस के खिलाफ कड़ी जांच की मांग कर रही है।