बड़ी ख़बरें

सिगरेट छोड़ने के कुछ मिनटों में ही देखें ये असर

Tricity Today Correspondent LifeStyle

 

यदि आप सिगरेट छोड़ने का मन बना रहे हैं तो यह खबर आपके लिए उपयोगी साबित हो सकती है। धुएं के कस से तौबा करने के महज कुछ मिनट बाद ही शरीर में ऐसे सकारात्मक लक्षण दिखने लगते हैं, जो आपकी सेहत के लिए वरदान साबित होते हैं।

 

20 मिनट बाद नब्ज और रक्तचाप सामान्य
सिगरेट पीने के दौरान इसमें पाए जाने वाले निकोटिन की मात्रा शरीर में बढ़ जाती है और यह तंत्रिका तंत्र में अनावश्यक गति ला देता है। जबकि, धुएं के कस से तौबा करने के महज 20 मिनट के भीतर आपका ब्लड प्रेशर और नब्ज सामान्य हो जाती है।

 

12 घंटे बाद कॉर्बन मोनोऑक्साइड का स्तर कम
सिगरेट छोड़ने के 12 घंटे बाद रक्त में ऑक्सीजन की मात्रा सामान्य हो जाती है। कार्बन मोनोक्साइड की मात्रा खून में कम हो जाती है। खून में कार्बन मोनो ऑक्साइड की मात्रा बढ़ने से रक्त कोशिकाएं पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं कर पातीं।

 

 

02 दिन बाद गंध और स्वाद में फर्क आसान
सिगरेट पीना छोड़ने वाला इंसान की दो दिनों बाद सुगंध और स्वाद में अंतर करने की क्षमता सामान्य हो जाती है। जीभ में स्वाद का पता लगाने वाली कोशिकाओं को भी नया जीवन मिलता है।

 

03 दिन बाद सांस लेना आसान
सिगरेट छोड़ने के कुछ दिन तक आपको मौत का यह कस अपनी ओर बड़ी ही तेजी से आकर्षित करेगा। लेकिन सिगरेट छोड़ने के तीसरे दिन ही आपकी स्वांस प्रक्रिया सामान्य होने लगती है। सांस लेना अब पहले के मुकाबले अच्छा हो जाता है।

 

कुछ महीने बाद बेहतर रक्त आपूर्ति
यदि आप कुछ महीनों तक सिगरेट नहीं पीते हैं तो इसका सीधा असर आपके शरीर के रक्त संचार पर पड़ता है। क्योंकि फेफड़ों द्वारा ऑक्सीजन लेना 30 प्रतिशत बढ़ जाता है।

 

हृद्य रोग और कैंसर का खतरा खत्म
सिगरेट को तौबा करने के सालभर बाद दिल से जुड़ी हुई बीमारियों का खतरा 30 प्रतिशत कम हो जाता है। फेफड़ों के कैंसर का खतरा 50 फीसदी कम हो जाता है। यही नहीं सिगरेट छोड़ने के 15 साल बाद हृद्य से जुड़ी कॉरनरी की बीमारियों का खतरा भी टल जाता है।