बड़ी ख़बरें

एक साल पहले किया था अपहरण, अब जान से मारने की धमकी दे रहा है दरोगा

Tricity Today Correspondent/Greater Noida

ग्रेटर नोएडा में रहने वाले एक सुरक्षा कर्मी का करीब एक साल पहले कार सवार लोगों ने अपहरण कर लिया था। सुरक्षा कर्मी को तीन दिन तक बंद रखा था। अपहरण के इस मामले में कासना कोतवाली का एक दरोगा भी आरोपी है। यह मामला कोर्ट में चल रहा है। पीड़ित का आरोप है कि अब उसे केस वापस लेने के लिए धमकी दी जा रही हैं। एसएसपी से शिकायत की है। मदद मांगी है।

 

कासगंज के रहने वाले जयवीर सिंह चैहान ग्रेटर नोएडा के सेक्टर ओमेगा वन की ग्रीन वुड सोसाइटी में रहते हैं। जयवीर ने बताया कि एक साल पहले वह एनपीसीएल के कार्यालय में सुरक्षा कर्मी की नौकरी करते थे। 10 जुलाई 2015 को वह बाइक पर सवार होकर अपने घर से कार्यालय जा रहे थे। सेक्टर पी-3 गोल चक्कर पर कासना कोतवाली के तत्कालीन एक दरोगा ने उसे रोक लिया। वहां खड़ी सफारी कार में सवार लोगों ने उसका अपहरण कर लिया। उसका पर्स, एटीएम, बाइक, मोबाइल सब लूटकरएक मकान में ले गए। तीन दिन मकान में रखा। पीड़ित किसी तरह जान बचाकर वहां से भागा। पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। कोर्ट ने आरोपी दरोगा और पीड़ित के गांव के व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया।

 

इस माले में जयवीर की पत्नी और एक अन्य गवाह के बयान दर्ज हो चुके हैं। मामला कोर्ट में चल रहा है। जयवीर का आरोप है कि शुक्रवार को अंसल मॉल के पास उसे दो युवकों ने घेर लिया। केस वापस नहीं लेने पर परिवार को जान से मारने की धमकी दी है। शनिवार को पीड़ित ने एसएसपी कोे लिखित शिकायत दी है। एसएसपी से सुरक्षा की गुहार लगाई है। एसएसपी धर्मेंद्र सिंह ने मदद का आश्वासन दिया है।