बड़ी ख़बरें

साथी की मदद को आगे आए नवोदय के पूर्व छात्र, स्विट्जरलैंड से मंगाई व्हील चेयर  

TricityToday Correspondent

जवाहर नवोदय विद्यालय मऊ की पूर्व छात्रा प्रीति श्रीवास्तव ने तीन साल पहले एक हादसे में अपनी रीढ़ की हड्डी गंवा दी थी। उनके शरीर के एक हिस्से ने काम करना बंद कर दिया। पिछले वर्ष देशभर के नवोदय विद्यालय के पूर्व छात्रों के एक सम्मेलन के दौरान प्रीति की हालत के बारे में पता चला। इसके बाद नवोदय विद्यालय के पूर्व छात्रों सुरेश राठी, पुष्पेंद्र डबास और महेंद्र मीना, हरीश थांकी , संदीप नाग , सुजाता वर्मा ​​आदि के नेतृत्व में ऑल इंडिया जेएनवि एलुमनाई एसोसिएशन (आइजा) ने देश के मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री उपेंद्र कुशवाहा से प्रीति की मदद करने के लिया कहा। छात्रों के आहवान पर मंत्री और नवोदय विद्यालय समिति के कमिश्नर ने प्रीति को नवोदय में नौकरी का आश्वासन भी दिया है। अब नवोदय के पूर्व छात्रें ने प्रीति के लिए स्विट्जरलैंड से एक खास व्हील चेयर मंगवाई है। इस व्हील चेयर के लिए नवोदय के एलुमनाई ने 4.28 लाख रुपये का चंदा इकट्ठा किया था। प्रीति का कहना है कि नवोदय विद्यालय उनके लिए एक परिवार की तरह है। उन्होंने इस हादसे के बाद कभी हिम्मत नहीं हारी।


अन्य छात्रों की मदद कर चुका है आइजा


ऑल इंडिया जेएनवि एलुमनाई एसोसिएशन (आइजा) नवोदय से जुड़े कई छात्रों की मदद कर चुका है। अब यह संगठन जवाहर नवोदय विद्यालय की एक और पूर्व छात्रा मुक्ता नेगी की मदद के लिए आगे आया है। संगठन ने नवोदय विद्यालय में पढ़ने वाले छात्रों के लिए निशुल्क कोचिंग और करियर काउंसलिंग की व्यवस्था भी उपलब्ध कराई है। यह संगठन अभी तक दुनियाभर में रहने वाले नवोदय के 1.5 लाख एलुमनाई को जोड़ चुका है। इनमें 400 से अधिक आईएएस और आईपीएस अधिकारी शामिल हैं।  

संबंधित खबरें