बड़ी ख़बरें

बम धमाके के शिकार यमन के युवक को नोएडा में मिला इलाज

Tricity Today Correspondent/Noida

 

नोएडा के जेपी हॉस्पिटल के चिकित्सकों ने एक बार फिर अपने हुनर से शानदार काम किया है। भारत का नाम दुनिया में रोशन किया है। यमन का रहने वाला 23 वर्षीय युवक दो साल पहले एक बम ब्लास्ट का शिकार हो गया था। तब से युवक कई मुल्कों में उपचार करवा चुका लेकिन लाभ नहीं मिला। अब उसका नोएडा के जेपी अस्पताल में सफल इलाज किया गया है।

 

जेपी हॉस्पिटल के जीआई-हिपेटो-पैनक्रिएटिक-बिलियरी विभाग के निदेशक डॉ.राजेश कपूर ने बताया युवक का नाम ओसमाह है। वह यमन का रहने वाला है। ओसमाह साल 2014 में यमन में हुए एक बम ब्लास्ट की घटना में बुरी तरह घायल हो गया था। दुर्घटना में ओसमाह के मूत्राशय (ब्लैडर) एवं मलाशय को बहुत गंभीर चोट पहुंची थी। इस घटना में युवक के मलाशय की नली फट गई थी और वहां से शौच का रिसाव होने लगा था। यमन में डॉक्टरों ने मूत्राशय की बीमारी तो ठीक कर दी लेकिन मलाशय की बीमारी ठीक नहीं कर पाए।

 

डॉक्टरों ने युवक के शौच का स्थान बदलकर पेट की बांई तरफ बना दिया। इसके बाद भी मलाशय से मवाद का रिसाव जारी रहा तथा मरीज को हमेशा के लिए इस कृत्रिम रास्ते के साथ जीने के लिए कहा गया। डॉ.राजेश कपूर ने बताया, मवाद का रिसाव जारी रहने से युवक का जीवन असामान्य हो गया था। परेशानी से मुक्ति पाने के लिए ओसमाह ने ओमान और ईरान के नामी अस्पतालों में भी ऑपरेशन कराया। लेकिन दोनों ही जगह ऑपरेशन सफल नहीं हुआ।

 

तीनों देशों से निराश होने के बाद ओसमाह ने जनवरी 2016 में बैंगलोर के दो नामी अस्पताल में पहुंचा। यहां युवक को भर्ती तो कर लिया गया लेकिन बीमारी की जटिलता देखकर डॉक्टर्स ने ऑपरेशन करने से ही मना कर दिया। जब ओसमाह जेपी हॉस्पिटल आया तो बहुत परेशान था। हमने युवक की जांच की और बीमारी का स्थाई इलाज करने का आश्वासन दिया। इसके बाद सर्जरी की गई और सर्जरी सफल हुई है।

संबंधित खबरें