बड़ी ख़बरें

Impact: बच्चों से झूठे बर्तन धुलवाने वाली हेड टीचर सस्पेंड

Asad Ahamad/Greater Noida

 

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बिसरख खंड विकास क्षेत्र के होशियापुर गांव में प्राथमिक विद्यायल की प्रधानाध्यापिका को निलंबित कर दिया गया है। प्रधानाध्यापिका पर बच्चों से झूठे बर्तन साफ कराने, पुरानी करेंसी चैंज कराने के लिये बैंक की लाईन में बच्चों को लगाने आरोप लगे थे। यह खबर ट्राई सिटी टुडे ने प्रमुखता से प्रकाशित की थी। जिस पर डीएम एनपी सिंह ने बीएसए को जांच करने का आदेश दिया था।

फूट फूटकर क्यों रोने लगे नोएडा में प्राइमरी स्कूल के बच्चे

बिसरख क्षेत्र के गांव होशियारपुर के प्राथमिक विद्यायल में नीरज चैबे प्रधानाध्यापिका के पद पर तैनात थीं। उन पर छात्र-छात्राओं से साफ-सफाई कराने, अपने झूठे बर्तन साफ कराने, स्कूल के बच्चों को अपनी पुरानी करेंसी बदलवाने के लिये बैंक की लाईन में लगवाने, अन्य अध्यापिकाओं से झगड़ा करने, स्कूली बच्चों के साथ अभ्रदता करने का आरोप लगाया था। इस बारे में जब बच्चों से बात की गई तो एक छात्रा फफक फफक कर रोने लगी थी। छात्रा की व्यथा ट्राई सिटी टुडे ने प्रकाशित की थी।

 


डीएम एनपी सिंह ने मामले में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को जांच का आदेश दिया। जांच में प्रधानाध्यापिका को दोषी पाया गया। बीएसए ने बताया कि प्रधानाध्यापिका के कक्ष में एक कम्प्यूटर लगा था, जो अब नही है। उनको निलंबित कर दिया है और इस अवधि में संबंधित अध्यापिका को जेवर के गांव बंकापुर के प्राथमिक विद्यायल में संबद्ध कर दिया है।