बड़ी ख़बरें

गौतमबुद्ध नगर लोकसभा की पांचों विधानसभा सीटों पर होंगे ये उम्मीदवार

Tricity Today Correspondent/Noida


गौतमबुद्ध नगर लोकसभा क्षेत्र की पांचों विधानसभा सीटों पर समीकरण बन और बिगड़ रहे हैं। लेकिन इस बार पांचों सीटों पर रोचक मुकाबला देखने को मिलेगा। गौतमबुद्ध नगर की तीन नोएडा, दादरी और जेवर सीट लोकसभा क्षेत्र में हैं। जबकि, बुलंदशहर की दो सीट सिकंदराबाद और खुर्जा शामिल हैं।

 

नोएडाः भाजपा का खेल बिगाड़ने की तैयारी
नोएडा में अभी भाजपा की विधायक बिमला बाथम हैं। इस बार भाजपा को नोएडा में घेरने की पूरी तैयारी विपक्ष कर रहा है। समाजवादी पार्टी ने ठाकुर बिरादरी से अशोक चैहान को खड़ा किया है। ठाकुरों को भाजपा का परंपरागत वोटर माना जाता है। लेकिन अशोक चैहान और उनके भाई मंत्री मदन चैहान की अपनी बिरादरी में अच्छी पकड़ है। अशोक चैहान को मुसलमान वोटरों से बड़ी आशा है। वहीं, कांग्रेस प्रिया गोल्ड बिस्किट के मालिक बीपी अग्रवाल को मैदान में उतारने की तैयारी कर रही है। इससे भी भाजपा के वैश्य वोटरों में सेंध लगेगी। बसपा ने ब्राह्मण चेहरे रविकांत मिश्रा को टिकट देकर भाजपा की ही डगर पर कांटे डाले हैं। कुल मिलाकर सारी पार्टियां अपना गणित बनाने की बजाय भाजपा का गणित बिगाड़ने का प्रयास कर रही हैं।

 

दादरीः खोई सीट की तलाश में भाजपा
दादरी विधानसभा क्षेत्र भाजपा का गढ़ रही है। यहां से महेंद्र सिंह भाटी के बाद भाजपा के नवाब सिंह नागर ने दो बार लगातार जीत हासिल की थी। खास बात यह है कि नवाब सिंह नागर ने दिवंगत नेता महेंद्र सिंह भाटी के बेटे और तत्कालीन विधायक समीर भाटी को हराया था। गौतमबुद्ध नगर जिले में भाजपा को स्थापित करने का श्रेय नवाब सिंह नागर को जाता है। 2007 और 2012 के चुनाव बसपा की लहर में नवाब सिंह नागर हार गए। वह दौर भाजपा का बुरा दौर था लेकिन नवाब सिंह नागर को 50 हजार से ज्यादा वोट मिलते रहे हैं। समाजवादी पार्टी ने युवा चेहरे रविंद्र भाटी को आगे बढ़ाया है। वहीं, बसपा अपने दो बार के विधायक सत्यवीर गुर्जर पर दांव खेलेगी। कांग्रेस से वीरेंद्र सिंह गुड्डू टिकट हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं। इस बार नवाब सिंह नागर की स्थिति बेहद मजबूत मानी जा रही है।

 

जेवरः धीरेंद्र सिंह को लाकर लड़ाई में आई भाजपा
जेवर विधानसभा क्षेत्र को भाजपा नेतृत्व डी कैटेगरी की सीट मानता है। होराम सिंह के भाजपा छोड़ने के बाद यहां से भाजपा के उम्मीदवारों की जमानत जब्त होती रही हैं। लेकिन इस चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस के किसान चेहरे ठाकुर धीरेंद्र सिंह को भाजपा ने अपने पाले में खड़ा करके बड़ी कामयाबी हासिल की है। धीरेंद्र सिंह जेवर से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे। बसपा अपने पुराने नेता वेदराम भाटी के साथ चुनाव लड़ेगी। वेदराम भाटी को बसपा में बड़ा गुर्जर नेता माना जाता है।


जेवर से बेबन नागर को सपा का टिकट शिवपाल यादव ने दिया है। लेकिन कांग्रेस और अखिलेश यादव का समझौता होने के बाद परिस्थितियां बदेंगी। यह सीट कांग्रेस के कोटे में जाएगी। अजित दौला कांग्रेस के उम्मीदवार होंगे। इन परिस्थितियों में भाजपा-बसपा-कांग्रेस में कांटे की टक्कर देखने के लिए मिलेगी। रालोद भी यहां से चुनाव लड़ेगा। रालोद से पूर्व ब्लाॅक प्रमुख कमल शर्मा ताल ठोंक रहे हैं। कमल प्रमुख भाजपा-बसपा के बागी हैं। चुनाव के दौरान भाजपा का गणित बिगाड़ने की पूरी कोशिश करेंगे।

 

सिकंदराबादः भाजपा के सामने खड़ी है बड़ी चुनौती
सिकंदराबाद से भाजपा की एमएलए बिमला सोलंकी हैं। पिछले चुनाव में वह सौभाग्यवश बेहद कम 153 वोटों से निर्वाचित हुई थीं। इस बार भाजपा की चुनौती इस सीट पर कमजोर मानी जा रही है। समाजवादी पार्टी ने यहां से बेहद साफ छवि के नेता कुंवर अब्दुल रब को खड़ा किया है। वहीं, बसपा ने हाजी इमरान को टिकट दिया है। ऐसे में अब्दुल रब को और मजबूती मिल गई है। इस सीट पर भाजपा और सपा के बीच सीधी लड़ाई देखने को मिलेगी। कांग्रेस से राजेंद्र सोलंकी को टिकट मिलने की संभावना है। राजेंद्र सोलंकी भी भाजपा को नुकसान पहुंचाएंगे।

 

खुर्जाः कांग्रेस मजबूत, बाकी पार्टियों को नहीं मिल रहे उम्मीदवार
खुर्जा विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस के विधायक बंशी पहाड़िया हैं। विधायक की छवि साफ-सुथरी और मिलनसार नेता के रूप में है। बाकी दलों को यहां से ढूंढे उम्मीदवार नहीं मिल रहे हैं। हालांकि, सपा ने रविंद्र वाल्मिकी, बसपा ने अर्जुन सिंह को टिकट दिया है। अर्जुन सिंह रिटायर आरटीओ हैं। भाजपा से बिजेंद्र खटीक का नाम चल रहा है। बिजेंद्र खटीक पूर्व ब्लाॅक प्रमुख हैं। स्थानीय स्तर पर बिजेंद्र अच्छर पकड़ है।

 

पार्टी   नोएडा दादरी जेवर  सिकंदराबाद  खुर्जा
सपा अशोक चैहान  रविंद्र भाटी  बेबन नागर अब्दुल रब रविंद्र वाल्मिक
बसपा रविकांत मिश्रा सत्यवीर गुर्जर वेदराम भाटी हाजी इमरान अर्जुन सिंह
भाजपा बिमला बाथम नवाब सिंह नागर  धीरेंद्र सिंह बिमला सोलंकी बिजेंद्र खटीक
कांग्रेस बीपी अग्रवाल वीरेंद्र सिंह गुड्डू अजित दौला राजेंद्र सोलंकी बंशी पहाड़िया
रालोद      कमल शर्मा    

 

यह भी पढ़िए

कांग्रेस ने धीरेंद्र सिंह पर बोला जोरदार हमला, कहा उनकी वजह से हारी थी कांग्रेस

अब अजित दौला होंगे कांग्रेस के जेवर सीट से उम्मीदवार