गुर्जरों के बरगद उखाड़कर कुकुरमुत्ते उगा रहे हैं डा.महेश शर्माः ओमकार भाटी

Tricity Today Correspondent/Noida

 

विधानसभा चुनाव का बिगुल बजते ही जिले में राजनीतिक कोहराम शुरू हो गया है। सांसद और केंद्रीय मंत्री डा.महेश शर्मा के खिलाफ मुकदमा लड़ रहे भाजपा नेता ओमकार भाटी ने एक बार फिर हमला बोला है। ओमकार भाटी ने कहा डा.महेश शर्मा कितने गुर्जर विरोधी हैं, इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े गुर्जर ओबीसी नेता नवाब सिंह नागर का टिकट कटवाने के लिए विटो लगाकर बैठ गए हैं। महेश शर्मा की ऐसी हालत कि वह गुर्जर बिरादरी के बरगदों को उखाड़कर कुकुरमुत्ते उगा रहे हैं।

 

ओमकार भाटी ने कहा, डा.महेश शर्मा पूरे जिले में कहते घूम रहे हैं कि वह गुर्जरों के विरोधी नहीं हैं। गुर्जरों को अपना आदर्श मानते हैं। गुर्जरों के लिए उनका विभाग बड़ा संस्थान बना रहा है। संस्थान का नाम पंडित दीन दयाल उपाध्याय के नाम पर है और दावा कर रहे हैं कि गुर्जरों के लिए बना रहे हैं। यह सब झूठ है। दरअसल, जब उन पर पार्टी हाईकमान ने डंडा चलाया तो क्षेत्र में आकर झूठ के पुलिंदे बांध रहे हैं।

 

 

ओमकार भाटी ने कहा, महेश शर्मा ने हमारी बिरादरी को खुलेआम गालियां बकीं। हमारी बिरादरी के नेताओं को विधानसभा टिकट दिलाने का झुनझुना थमा दिया। जिससे हमारे लोग उनका विरोध करने की बजाय हमारा ही विरोध करने में जुट गए। लेकिन अब डा.महेश शर्मा का वास्तविक चेहरा सामने आ गया है। महेश शर्मा पूर्व मंत्री नवाब सिंह नागर का टिकट कटवाने के लिए ऐड़ी से चोटी का जोर लगा रहे हैं। दरअसल, वह जानते हैं कि नवाब सिंह नागर को टिकट मिल गया तो वह चुनाव जीतेंगे और सरकार में मंत्री भी बनेंगे। ऐसे में जिले के लोग और संगठन डा.महेश शर्मा को छोड़कर नवाब सिंह नागर के साथ खड़े हो जाएंगे। इसी भय के कारण वह नहीं चाहते कि नवाब सिंह नागर को टिकट मिले।

 

भाजपा नेता ओमकार भाटी ने दावा किया कि महेश शर्मा गुर्जर बिरादरी के खिलाफ गहरी साजिश रच रहे हैं। जिसे गुर्जर बिरादरी के नेता समझ नहीं रहे हैं। नवाब सिंह नागर को इस चुनाव में खत्म कर दिया जाएगा। गुर्जर प्रेम दिखाने के लिए नवाब सिंह नागर की जगह किसी पैर छूने वाले को टिकट दिया जाएगा। उसे भी चुनाव हराया जाएगा। अगले चुनाव तक शहरीकरण इतना हो जाएगा कि नोएडा की तरह दादरी सीट पर भी कोई गुर्जर चुनाव नहीं लड़ पाएगा। अगर चुनाव लड़ भी पाया तो जीत नहीं सकेगा। महेश शर्मा गुर्जरों के बरगदों को उखाड़कर कुकुरमुत्ते उगाने की साजिश रच रहे हैं।

 

ओमकार भाटी ने भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से अपील की कि वह नवाब सिंह नागर का टिकट काटकर बड़ी भूल नहीं करें। ऐसा करने से हमेशा के लिए गुर्जर मतदाता भारतीय जनता पार्टी से छिटक सकता है। डा.महेश शर्मा की वैनस्यता पूर्ण और अहम का तुष्टिकरण करने वाली राजनीति को पोषित नहीं करें।

यह भी पढ़िए

पार्ट-1: गौतमबुद्ध नगर में खत्म हो जाएगा इन भाजपा नेताओं का पाॅलिटिकल करियर