बड़ी ख़बरें

धोनी भूल गए अब वे नहीं हैं कप्तान, कोहली से पूछे बिना थर्ड अंपायर से मांगा डीआरएस रिव्यू

TricityToday Correspondent

वनडे मैचों की कप्तानी छोड़ने के बाद पहला मैच खेल रहे महेंद्र सिंह धोनी अभी कप्तान के माइंड सेट से बाहर नहीं आ पाए हैं। इंग्लैंड के खिलाफ रविवार को खेले जा रहे पहले मैच में कुछ ऐसा हुआ जहां धोनी को ये अहसास करने में वक्त लगा कि वे अब कप्तान नहीं हैं। उनकी बाॅडी लैंग्वेज बता रही थी कि वे चूक कर गए।

दरअसल, हुआ यूं कि 27वें ओवर की आखिरी गेंद पर हार्दिक पंड्या ने इंग्लैंड के कप्तान इयान मोर्गन को विकेट के पीछे धोनी के हाथों कैच कराने की जोरदार अपील की। अंपायर ने अपील नकार दी लेकिन धोनी ने कप्तान वाले अंजाद में सीधे डीआरएस के तहत थर्ड अंपायर से रैफरल मांग लिया। कप्तान विराट कोहली की तरफ देखे बिना या सलाह किए बिना ही धोनी ने खुद ही रैफलर मांग डाला। रैफरल का इशारा करते हुए धोनी भूल गए थे कि वे अब कप्तान नहीं हैं।

ऑन साइड की ओर खड़े कप्तान विराट कोहली ने दौड़ते हुए धोनी को कैच की बधाई दी। तब तक धोनी ये समझ गए थे कि वे चूक कर गए हैं और अब टीम के कप्तान नहीं हैं। हालाकि रैफलर मांगते वक्त उनकी बाॅडी लैंग्वेज पुराने धोनी जैसी थी लेकिन अगले ही पल उन्हें देखकर ये झलक गया कि अब वे किसी और की कप्तानी में खेल रहे हैं। दरअसल, विकेट के पीछे कैच के लिए आउट की मांग करने से पहले विकेट कीपर टीम के कप्तान की ओर को भरोसा दिलाते हुए सहमति जताता है जिसके बाद टीम का कप्तान थर्ड अंपायर से रैफलर मांगता है।