बड़ी ख़बरें

भाजपा के विरोध में साठा-चैरासी के क्षत्रियों ने घेरा अमित शाह का घर, नारेबाजी

TricityToday Correspondent

गौतमबुद्धनगर की दादरी सीट के बाद गाजियाबाद की धौलाना सीट पर भी बाहरी व्यक्ति को प्रत्याशी बनाए जाने का विरोध तेज हो गया है। धौलाना से टिकट के दावेदार वाईपी सिंह की जगह रमेश चंद्र तोमर को प्रत्याशी घोषित करने से क्षत्रिय समाज में जबरदस्त गुस्सा है। वाईपी सिंह के समर्थकों ने आज गुरूवार सुबह दिल्ली स्थित भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के अवास पर प्रदर्शन किया।

गुरूवार सुबह धौलाना से लगभग 150 वाहनों से सैकड़ों लोग दिल्ली पहुंचे। अमित शाह के आवास पर रमेश चंद्र तोमर के खिलाफ जमकर नारेबाजी हुई। समर्थकों का आरोप है कि बाहरी व्यक्ति को प्रत्याशी स्वीकार नहीं किया जाएगा। अगर वाईपी सिंह को टिकट नहीं दिया गया तो भाजपा का जोरदार बहिष्कार किया जाएगा। स्थानीय लोग भाजपा को वोट नहीं करेंगे। यहां लोगों ने रमेश चंद्र तोमर पर मौकापस्ती और भगौड़ा प्रत्याशी होने का आरोप लगाया। वाईपी सिंह के समर्थन में साठा-चैरासी का क्षत्रिय समाज एक हो गया है।

इतना ही नहीं धौलाना सीट से टिकट की दौड़ में शामिल रहे निशांत राणा, उमेश राणा, सतपाल तोमर, मुनेंदर सिसौदिया भी अब खुलकर रमेश चंद्र का विरोध कर रहे हैं। वाईपी सिंह को टिकट नहीं दिया गया तो उन्हें निर्दलीय चुनाव लड़ाने के लिए सभी की ओर से समर्थक का वादा किया गया है। मंडल अध्यक्ष प्रदीप सिसौदिया का कहना है कि भाजपा की स्थानीय कार्यकारिणी के पदाधिकारी, जिला पंचायत सदस्य और कई गांवों के प्रधान जो भाजपा से जुड़े हैं वे वाईपी सिंह के समर्थन में पार्टी से सामूहिक इस्तीफा देने की तैयारी में हैं।

अखिलेश ने साधा संपर्क
भाजपा से टिकट कटने के बाद वाईपी सिंह का कद और बढ़ गया है। साफ छवि और पढ़े लिखे वाईपी सिंह को क्षेत्र लोगों की सहानुभूति मिल रही है। टिकट कटने के बाद अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी की ओर से भी वाईपी सिंह को टिकट देने का आॅफर दिया गया है। ऐसा हुआ तो भाजपा का ही नुकसान होगा।