बड़ी ख़बरें

EXCLUSIVE: माइकल शुमाकर के बेटे मिक शुमाकर पहुंचे बीआईसी, भारत से कर रहे हैं करियर की शुरूआत

Tricity Today Correspondent/Greater Noida

 

सात बार के फार्मूला वन चैंपियन माइकल शुमाकर के बेटे मिक शुमाकर ग्रेटर नोएडा में हैं। मिक बु़द्ध इंटरनेशनल सर्किट पर एमआरएफ चैंपियनशिप में रेस करने आए हैं। रेस अगले दो दिनों तक चलेगी। खास बात यह है कि मिक अपने करियर की शुरूआत भारत से कर रहे हैं।

 

 

एमआरएफ टायर्स के प्रबंध निदेशक अरूण मेमन ने कहा, हम बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर वापस आकर बेहद उत्साहित हैं। इस चैंपियनशिप की पहली रेस दुबई में हुई थी। चैंपियनशिप में मिक दूसरे स्थान पर चल रहे हैं। यह रेस उसके लिए महत्वपूर्ण है। मिक को उनके पिता की रेसिंग टीम मर्सिडीज पेट्रानास माॅनिटर कर रही है। अभी चैंपियनशिप में पहले नंबर पर हेरीसन न्यूवे हैं।

 

माइकल शुमाकर एक हादसे के बाद करीब दो वर्षों से कोमा में हैं। इस बीच उनके 17 वर्ष के बेटे मिक शुमाकर भी अपने पिता के पद चिन्हों पर चल निकले हैं। मिक शुक्रवार की सुबह ग्रेटर नोएडा पहुंचे हैं। दोपहर में एमआरएफ चैंपियनशिप के लिए प्रेक्टिस रेस हुई है। जिसमें मिक ने भाग लिया है। शनिवार रेस का क्वालीफाइंग दौर होगा और रविवार को फाइनल रेस होगी।

 

 

मिक के पिता माइकल शुमाकर ने भी ग्रेटर नोएडा में बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर दो इंडियन ग्रांप्री में भाग लिया था। लेकिन दुर्भाग्यवश 29 दिसंबर 2013 को फ्रांस में स्कीइंग करते हुए हादसा हो गया था। जिसमें माइकल शुमाकर गंभीर रूप से घायल हुए और अब तक कोमा में चल रहे हैं। वह ट्रोमेटिक ब्रेन इंजरी की वजह से इंडूसिड कोमा में हैं।