हर घंटे दिल्ली से आगरा के बीच चलेगी बुलेट ट्रैन, जेवर में भी होगा स्टेशन

अच्छी खबर : हर घंटे दिल्ली से आगरा के बीच चलेगी बुलेट ट्रैन, जेवर में भी होगा स्टेशन

हर घंटे दिल्ली से आगरा के बीच चलेगी बुलेट ट्रैन, जेवर में भी होगा स्टेशन

Google Image | Symbolic Photo

हर घंटे दिल्ली से आगरा के बीच चलेगी बुलेट ट्रैन, जेवर में भी होगा स्टेशन ग्रेटर नॉएडा : भारत सरकार देश में रेल कनेक्टिविटी को बढ़ाने के लिए तेजी से काम कर रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक आने वाले समय में दिल्ली से आगरा के बीच हर घंटे एक बुलेट ट्रेन चलेगी। नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन द्वारा बनाई गई डीपीआरक के अनुसार दिल्ली-बनारस हाई स्पीड रेल रूट यह बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट 958 किलोमीटर लंबा होगा। जिसमें लखनऊ से अयोध्या को जोड़ने वाला 123 किलोमीटर लंबा प्रोजेक्ट भी शामिल है। 

डीपीआर के मुताबिक दिल्ली से आगरा के बीच चलने वाली बुलेट ट्रेन की रफ्तार 300 किलोमीटर प्रति घंटा होगी और यह प्रतिदिन दिल्ली से आगरा के बीच 63 चक्कर लगाएगी वही दिल्ली से लखनऊ के बीच 43 और दिल्ली से बनारस के बीच 18 जबकी अयोध्या के लिए चक्करओं की संख्या 11 होगी। अगर सब कुछ प्लान के मुताबिक चला तो यह परियोजना 2029-30 तक पूरी हो पाएगी। 

सुरक्षा की दृष्टि से पूरा रेल मार्ग या तो एलिवेटेड होगा या फिर भूमिगत सुरंगों से होकर गुजरेगा। अभी तक पूरे मार्ग पर कुल 12 स्टेशन प्रस्तावित है जिसमें मुख्या तोर पे ग्रेटर नॉएडा(जेवर ),आगरा,मथुरा, वाराणसी, अयोध्या और प्रयागराज शामिल है। इसके साथ ही इस रेल मार्ग पर जेवर में एक अंडरग्राउंड रेलवे स्टेशन बनाने की भी परियोजना है। 

एक अनुमान के मुताबिक इस पूरी परियोजना को पूरा करने में 2.38 लाख करोड़ रुपए का खर्च आएगा, जोकि इस परियोजना का सबसे चुनौतीपूर्ण भाग होगा कि इतनी बड़ी रकम किस तरीके से जुटाई जाए। काम शरू होने के दिन से परियोजना को पूरा करने में 8 वर्ष लगने का अनुमान है। 

मौजूदा समय में रेल मार्ग द्वारा दिल्ली से बनारस पहुंचने में 8 से 10 घंटे का समय लगता है। जो कि इस हाई स्पीड रेल नेटवर्क के शुरू होने के बाद महज 3 घंटों में पूरा किया जा सकेगा। इसके साथ ही वर्तमान सरकार की अयोध्या को दुनिया के नक्शे पर एक प्रमुख पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित करने की भी योजना है। जिसके लिए इसका देश के अन्य शहरों से जुड़ना बेहद जरूरी है इस प्रोजेक्ट के माध्यम से यह जरूरत भी पूरी होगी।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.