नोएडा और गाजियाबाद समेत 33 जगहों पर सीबीआई की रेड, जम्मू कश्मीर पुलिस से जुड़ा है मामला

BIG BREAKING : नोएडा और गाजियाबाद समेत 33 जगहों पर सीबीआई की रेड, जम्मू कश्मीर पुलिस से जुड़ा है मामला

नोएडा और गाजियाबाद समेत 33 जगहों पर सीबीआई की रेड, जम्मू कश्मीर पुलिस से जुड़ा है मामला

Google Photo | नोएडा और गाजियाबाद समेत 33 जगहों पर सीबीआई की रेड

नोएडा और गाजियाबाद समेत 33 जगहों पर सीबीआई की रेड, जम्मू कश्मीर पुलिस से जुड़ा है मामला Noida/Ghaziabad : जम्मू एंड कश्मीर पुलिस भर्ती घोटाला मामले में मंगलवार को सीबीआई ने दिल्ली एनसीआर के गाजियाबाद और नोएडा समेत अन्य कई जगहों पर एक साथ छापेमारी की है। अलग-अलग राज्यों के कुल 33 जगहों पर सीबीआई ने भर्ती घोटाला मामले को लेकर सर्च अभियान चलाया तथा सीबीआई की छापेमारी हुई। अभी तक कुल 33 जगहों पर छापेमारी हुई है, जिसमें से गाजियाबाद और नोएडा जैसे दो महानगर शामिल हैं। हालांकि गाजियाबाद और नोएडा के किन जगहों पर छापेमारी की गई है इसके बारे में अभी कोई सूचना नहीं मिली है। छापेमारी की पुष्टि सीबीआई के अधिकारियों ने की है।

कुल 33 जगहों पर छापेमारी 
अधिकारियों से जानकारी मिली है कि जम्मू-कश्मीर सेवा चयन बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष खालिद जहांगीर के परिसर पर सीबीआई ने आज सुबह छापा मारा। इसके अलावा जेकेएसएसबी की परीक्षा नियंत्रक अशोक कुमार के परिसरों की तलाशी भी ली जा रही है। आज सीबीआई ने जिन 33 स्थानों पर एक साथ छापेमारी की है, उनमें हरियाणा का करनाल, श्रीनगर, जम्मू, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ के अलावा गांधीनगर, बेंगलुरु, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, गाजियाबाद और नोएडा समेत कई अन्य जगह शामिल है।

छापेमारी का दूसरा दौर 
अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार भर्ती घोटाले के मामले में सीबीआई द्वारा चलाई जा रही छापेमारी का यह दूसरा दौर है। सीबीआई ने इस घोटाला मामले में केस दर्ज करने के बाद 5 अगस्त को कहा था कि प्रशासन के अनुरोध पर जम्मू-कश्मीर पुलिस में एसआई पदों के लिए 27 मार्च 2022 को लिखित परीक्षा में अनियमितताओं के आरोप में 33 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।

उम्मीदवारों के साथ घोटाले की साजिश
जम्मू कश्मीर पुलिस में एसआई पदों के लिए 27 मार्च 2022 को लिखित परीक्षा का आयोजन जम्मू-कश्मीर सेवा चयन बोर्ड की तरफ से किया गया था। सीबीआई ने इस बात की जानकारी दी है कि ऐसा आरोप था कि आरोपी ने जेकेएसएसबी बेंगलुरू स्थित निजी कंपनी के अलावा लाभार्थी उम्मीदवारों और अन्य के साथ घोटाले की साजिश की है और लिखित परीक्षा के दौरान भारी अनियमितताएं की गईं। साथ ही यह भी आरोप लगाया गया है कि जम्मू, राजौरी और सांबा जिलों में चयनित उम्मीदवारों का सामान्य रूप से उच्च प्रतिशत था। जेकेएसएसबी के कथित तौर पर बेंगलुरु की निजी कंपनी को प्रश्न पत्र आउटसोर्सिंग में नियमों का उल्लंघन किया था।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.