गाजियाबाद पुलिस उठा रही है शहर की सुरक्षा में बड़े कदम, इन दो जगहों पर नए पुलिस स्टेशनों की मंजूरी

BIG NEWS : गाजियाबाद पुलिस उठा रही है शहर की सुरक्षा में बड़े कदम, इन दो जगहों पर नए पुलिस स्टेशनों की मंजूरी

गाजियाबाद पुलिस उठा रही है शहर की सुरक्षा में बड़े कदम, इन दो जगहों पर नए पुलिस स्टेशनों की मंजूरी

Google Photo | गाजियाबाद एसएसपी मुनीराज

गाजियाबाद पुलिस उठा रही है शहर की सुरक्षा में बड़े कदम, इन दो जगहों पर नए पुलिस स्टेशनों की मंजूरी Ghaziabad : शहर और लोगों की सुरक्षा के लिए गाजियाबाद पुलिस ने कुछ बड़े और अहम कदम उठाए हैं। प्रशासन द्वारा गाजियाबाद में दो नए पुलिस स्टेशन बनाने के लिए मंजूरी दे दी गई है। क्रॉसिंग रिपब्लिक और वेव सिटी नाम से दो नए पुलिस स्टेशन बनने के बाद गाजियाबाद में कुल पुलिस स्टेशनों की संख्या 22 से बढ़कर 24 हो जाएगी। इन पुलिस स्टेशनों के लिए शासन से जल्द ही पद स्वीकृत किए जाएंगे।

दो नए पुलिस स्टेशनों का निर्माण 
कविनगर थाने से अलग होकर बनाए जाने वाले वेव सिटी थाने में चौकी डासना, दूधिया पीपल, लालकुआं का एरिया शामिल किया जाएगा और थाना विजयनगर से क्रॉसिंग रिपब्लिक का नया थाना बनाया जाएगा। इसके अंतर्गत चौकी सेक्टर 9 और क्रॉसिंग रिपब्लिक एरिया भी शामिल किया जाएगा।

एसएसपी ने भेजे 4 नए थानों के प्रस्ताव
मिली जानकारी के अनुसार गाजियाबाद एसएसपी ने शासन को 4 नए थाने बनाने का प्रस्ताव भेजा था, लेकिन शासन से अभी सिर्फ दो पुलिस स्टेशनों की ही मंजूरी मिली है। एसएसपी द्वारा भेजे गए 4 नए थानों के प्रस्ताव में क्रॉसिंग रिपब्लिक और वेव सिटी के अलावा नीति खंड और अंकुर विहार एरिया भी शामिल थे।

भविष्य में और नए पुलिस स्टेशन की उम्मीद
गाजियाबाद के एसएसपी मुनीराज ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि शहरी क्षेत्र में नया थाना बनाने के लिए आबादी 50 हजार या इससे अधिक होनी चाहिए। ग्रामीण क्षेत्र में थाना बनाने के लिए आबादी 75 हजार से 90 हजार के बीच होनी जरूरी है, जबकि थाने का क्षेत्रफल 113 वर्ग मीटर होना चाहिए। इस आधार पर शहर में चार नए पुलिस स्टेशन बनाने के लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया था। इसमें दो पुलिस स्टेशनों की मंजूरी मिली है। उम्मीद है कि भविष्य में और नए पुलिस स्टेशनों की भी मंजूरी मिल जाएगी।

गाजियाबाद में नए थाने की आवश्यकता 
मंजूरी से पूर्व गाजियाबाद जिले में कुल 22 पुलिस स्टेशन थे। दो नए पुलिस स्टेशन की मंजूरी मिलने के बाद गाजियाबाद जिले में 24 पुलिस स्टेशन हो जाएंगे। 22 पुलिस स्टेशन में कुल 4500 पुलिस स्टाफ मौजूद हैं, जबकि गाजियाबाद जिले की आबादी 40 लाख से पार हो चुकी है। अगर इस अनुपात का हिसाब लगाया जाए तो गाजियाबाद जिले के अंतर्गत 800 लोगों की सुरक्षा पर मात्र एक पुलिसकर्मी है और इसी वजह से गाजियाबाद में पिछले कुछ समय से आपराधिक घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। यहां सबसे ज्यादा स्नैचिंग और वाहन चोरी की घटनाएं हो रही हैं। ऐसे में यहां नए पुलिस स्टेशन बनाना अनिवार्य हो गया है और इसी मामले को लेकर शासन को प्रस्ताव भेजा गया था।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.