2100 करोड़ की लागत से जुड़ेंगे जेवर एयरपोर्ट और दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने की घोषणा

BREAKING: 2100 करोड़ की लागत से जुड़ेंगे जेवर एयरपोर्ट और दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने की घोषणा

2100 करोड़ की लागत से जुड़ेंगे जेवर एयरपोर्ट और दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने की घोषणा

Social Media | दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे का जायजा लेते केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी

2100 करोड़ की लागत से जुड़ेंगे जेवर एयरपोर्ट और दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने की घोषणा Noida International Airport: जेवर एयरपोर्ट को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे से जोड़ा जाएगा। इसके लिए हरियाणा और यूपी में 31 किमी लंबा 6 लेन का ग्रीनफील्ड कनेक्टिंग मार्ग बनाया जाएगा, जो जेवर एयरपोर्ट को फरीदाबाद जिले में इस एक्सप्रेसवे से जोड़ेगा। इस प्रोजेक्ट पर करीब 2,100 करोड़ रुपए की लागत आएगी। इस महत्वपूर्ण मार्ग के लिए भूमि अधिग्रहण की स्वीकृति केंद्र मंत्रालय ने दे दी है। यह परियोजना इसी साल शुरू हो जाएगी। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज हरियाणा के सोहना में इसकी घोषणा की। दरअसल वह दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे के निर्माण कार्यों की समीक्षा के लिए आज हरियाणा और राजस्थान के दौरे पर हैं। 

दुनिया का सबसे बड़ा एक्सप्रेसवे होगा
केंद्रीय मंत्री ने बताया कि दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे के दो दिवसीय निरीक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत आज हरियाणा के सोहना में राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह के साथ एक्सप्रेस-वे का निरीक्षण किया। इस मौके पर उन्होंने कहा, जेवर एयरपोर्ट को फरीदाबाद से जोड़ने के लिए भूमि अधिग्रहण की स्वीकृति केंद्र मंत्रालय ने दे दी है। यह प्रोजेक्ट इसी साल शुरू हो जाएगा। इस प्रोजेक्ट पर करीब 2,100 करोड़ रुपए की लागत आएगी। मुझे खुशी है कि दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे दुनिया का अपनी तरह का सबसे बड़ा एक्सप्रेसवे हाईवे है। यह देश के लिए अभिमान का विषय है। इस एक्सप्रेसवे का ज्यादा काम पूरा हो चुका है। इसके तैयार होने के बाद महज 12-13 घंटे में दिल्ली-मुंबई के बीच की दूरी तय हो जाएगी। 

एनसीआर में 53,000 करोड़ के प्रोजेक्ट पर काम शुरू
उन्होंने आगे बताया, हरियाणा में 6 जगहों पर सड़क किनारे जन-सुविधाएं मिलेंगी। जिससे स्थानीय उत्पादकों को प्राथमिकता दी जाएगी। इसमें हेलीकॉप्टर एंबुलेंस की सेवाएं भी दी जाएंगी। हम इसमें ड्रोन का उपयोग भी करेंगे जो उद्योग और व्यवसाय के लिए उपयोगी होगा। हमने ईस्टर्न पेरीफेरल रोड़ बनाकर दिल्ली में प्रदूषण कम किया। इसे और कम करने के लिए दिल्ली-एनसीआर में हम करीब 53,000 करोड़ रुपए की 15 योजनाएं लाए हैं। इनमें से 14 पर काम शुरू हो गया। इनके पूरा होने के बाद दिल्ली के लोगों को ट्रैफिक और प्रदूषण से राहत मिलेगी।

केवल 31 किलोमीटर सड़क बनानी पड़ेगी
दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे (Delhi-Mumbai Expressway) का निर्माण कार्य चल रहा है। यह एक्सप्रेसवे हरियाणा के फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ से गुजरता है। बल्लभगढ़ से जेवर एयरपोर्ट की दूरी मात्र 31 किलोमीटर है। केंद्र सरकार की योजना के मुताबिक दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे को जेवर एयरपोर्ट से जोड़ा जाएगा। इसमें 24 किलोमीटर का हिस्सा हरियाणा में आता है और 7 किलोमीटर का हिस्सा उत्तर प्रदेश में आता है। इसको लेकर दोनों राज्यों के अफसरों में कई दौर की बातचीत हुई। अब इस पर सहमति बन गई है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.