लव कुमार को पुलिस मेडल मिलेगा, 4 एडीजी और एक हेड कांस्टेबल को राष्ट्रपति पदक

Uttar Pradesh : लव कुमार को पुलिस मेडल मिलेगा, 4 एडीजी और एक हेड कांस्टेबल को राष्ट्रपति पदक

लव कुमार को पुलिस मेडल मिलेगा, 4 एडीजी और एक हेड कांस्टेबल को राष्ट्रपति पदक

Google Image | IPS Love Kumar

New Delhi/Lucknow : केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गणतंत्र दिवस के मौके पर पुलिसकर्मियों को दिए जाने वाले सम्मान की घोषणा कर दी है। उत्तर प्रदेश के हिस्से में 79 पदक आए हैं। देश के पुलिस बलों में यूपी पुलिस को मिलने वाले पदकों की संख्या सर्वाधिक है। गौतमबुद्ध नगर के पुलिस कप्तान और फिर ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर रहे आईपीएस लव कुमार को 'पुलिस मेडल फॉर मेरीटोरियस सर्विस' से नवाजा जाएगा। उत्तर प्रदेश पुलिस के 4 अपर पुलिस महानिदेशक और एक कांस्टेबल को राष्ट्रपति पुलिस पदक मिलेगा। यूपी पुलिस में विभिन्न पदों पर कार्यरत 76 पुलिस वाले पुलिस मेडल से सम्मानित होंगे।

इन पांच पुलिस कर्मियों को प्रेसिडेंटस मेडल मिलेंगे
उत्तर प्रदेश पुलिस के जिन 5 पुलिसकर्मियों को इस बार प्रेसिडेंट पुलिस मेडल के लिए चुना गया है, उनमें अपर पुलिस महानिदेशक (कार्मिक) राजा श्रीवास्तव और पुलिस महानिदेशक के जनरल स्टाफ ऑफिसर एडीजी नमाला रविंदर शामिल हैं। उत्तर प्रदेश पुलिस में एंटी टेरेरिस्ट स्क्वायड (एटीएस) के एडीजी नवीन अरोड़ा और टेक्निकल सर्विसेज के एडीजी मोहित अग्रवाल को भी यह मेडल मिलेगा। चार पुलिस महानिदेशक के अलावा वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट में कार्यरत हेड कांस्टेबल विजय कुमार को भी प्रेसिडेंट पुलिस मेडल से नवाजा जाएगा।

लव कुमार को मिलेगा पुलिस मेडल
गौतमबुद्ध नगर के एसएसपी रहे और फिर ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर लव कुमार को 'पुलिस मेडल फॉर मेरीटोरियस सर्विसेज' से सम्मानित किया जाएगा। लव कुमार अभी केंद्रीय गृह मंत्रालय में प्रतिनियुक्ति पर कार्यरत हैं। वह स्पेशल प्रोटक्शन ग्रुप (एसपीजी) में आईजी हैं। आपको बता दें कि एसपीजी प्रधानमंत्री और देश पूर्व प्रधानमंत्री का सुरक्षा बल है।

लव कुमार 2004 बैच के आईपीएस अफसर
लव कुमार उत्तर प्रदेश कैडर में पुलिस महानिरीक्षक हैं। वह फिलहाल प्रतिनियुक्ति पर दिल्ली में तैनात हैं। उससे पहले वह गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट में बतौर संयुक्त आयुक्त रह चुके हैं। लव कुमार 2004 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। मूल रूप से ज्योतिबाफुले नगर के रहने वाले हैं। पुलिस कमिश्नरेट व्यवस्था लागू होने से पहले वह गौतमबुद्ध नगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक भी रह चुके हैं। लव कुमार 1 जनवरी 2018 को बतौर डीआईजी और फिर 1 जनवरी 2022 को बतौर आईजी प्रोन्नत किए गए थे। गौतमबुद्ध नगर में तैनात रहते ही वह आईजी की पोस्ट पर प्रोन्नत हुए हैं।

सौम्य स्वभाव के लिए खासे लोकप्रिय हैं लव कुमार
लव कुमार ज्योतिबाफुले नगर के रहने वाले हैं और उनका विज्ञान में स्नातक करने के बाद भारतीय पुलिस सेवा में चयन हुआ था। वह गौतमबुद्ध नगर और सहारनपुर समेत कई बड़े जिलों में बतौर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक तैनात रह चुके हैं। लव कुमार को सौम्य और मिलनसार स्वभाव के लिए जाना जाता है। वह गौतमबुद्ध नगर में तैनात रहे उन पुलिस अफसरों में शामिल हैं, जो खासे लोकप्रिय रहे हैं।

Copyright © 2022 - 2023 Tricity. All Rights Reserved.