यूपी-दिल्ली बॉर्डर पर भीषण जाम में फंसे हजारों वाहन, 200 पुलिसकर्मियों ने संभाला मोर्चा

बड़ी खबर : यूपी-दिल्ली बॉर्डर पर भीषण जाम में फंसे हजारों वाहन, 200 पुलिसकर्मियों ने संभाला मोर्चा

यूपी-दिल्ली बॉर्डर पर भीषण जाम में फंसे हजारों वाहन, 200 पुलिसकर्मियों ने संभाला मोर्चा

Google Image | यूपी-दिल्ली बॉर्डर पर भीषण

यूपी-दिल्ली बॉर्डर पर भीषण जाम में फंसे हजारों वाहन, 200 पुलिसकर्मियों ने संभाला मोर्चा Delhi-NCR: पिछले लंबे वक्त से ट्रैफिक जाम की मार झेल रहे दिल्ली-एनसीआर के लोगों के लिए शुक्रवार का दिन फिर बेहद दुखद रहा। गाजियाबाद के ईडीएम मॉल और आनंद विहार के बीच यूपी-दिल्ली बॉर्डर पर करीब 5 घंटे तक ट्रैफिक जाम रहा। हजारों गाड़ियां सड़कों पर रेंगती नजर आईं। इसको लेकर निवासियों में रोष है। वे मीडिया-सोशल मीडिया के माध्यम से नाराजगी व्यक्त कर रहे हैं। उधर गाजियाबाद और दिल्ली पुलिस के बीच ट्रैफिक जाम को लेकर खींचतान चल रही है। 

गाजियाबाद में यूपी पुलिस के अधिकारियों ने कहा कि वे दिल्ली पुलिस के बॉर्डर सील करने के "अचानक निर्णय" से अनजान थे। इस वजह से जाम की समस्या हुई। यातायात को डायवर्ट करने और कुछ हद तक परेशानी को कम करने में समय लगा। हालांकि दिल्ली पुलिस ने बॉर्डर सील करने से इनकार किया। डीसीपी (पूर्व) प्रियंका कश्यप ने कहा, "26 जनवरी से किसान आंदोलन को देखते हुए समान कानून-व्यवस्था जारी है। शुक्रवार को कुछ भी नया नहीं किया गया था।" 

जानकारी के मुताबिक गुरुवार की रात दिल्ली-गुड़गांव सीमा पर किसानों के अचानक नाकाबंदी को देखते हुए सभी बॉर्डर पर सुरक्षा सख्त कर दी गई थी। यूपी गेट ईडीएम और आनंद विहार से कुछ दूर है। पिछले 10 महीनों से राकेश टिकैत की अगुवाई में भारतीय किसान यूनियन के सैकड़ों किसान यहां प्रदर्शन कर रहे हैं। 

पुलिस ने कहा कि जाम शुक्रवार दोपहर से पांच घंटे तक लगाए गए बैरिकेड्स के कारण लगा। जैसे ही यात्रियों ने सोशल मीडिया पर ट्रैफिक जाम की जानकारी दी, यूपी पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी चोक पॉइंट पर पहुंच गए। यातायात विभाग और स्थानीय पुलिस थानों के लगभग 200 पुलिसकर्मियों को वाहनों को डायवर्ट करने के लिए सड़कों पर तैनात किया गया था। लेकिन जब तक ट्रैफिक पुलिस एक्शन ले पाती, तब तक लंबी कतारें लग चुकी थीं।

ज्ञानेंद्र सिंह, एसपी सिटी-2 और रामानंद कुशवाहा एसपी ट्रैफिक के नेतृत्व में पुलिस ने आनंद विहार की ओर जाने वाले वाहनों को जीटी रोड और भोपुरा की ओर मोड़ दिया। ईडीएम मॉल के रास्ते दिल्ली जाने वालों को सीमापुरी, तुलसी निकेतन, लोनी और नोएडा सेक्टर-62 की ओर डायवर्ट किया गया। ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि उन्हें दिल्ली पुलिस के फैसले के बारे में कोई पूर्व सूचना नहीं थी। उन्होंने कहा, "हमें स्थिति को सामान्य करने के लिए सड़कों पर ट्रैफिक पुलिस और स्थानीय पुलिस स्टेशनों की टीमों को तैनात करना पड़ा"।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.