ब्लैक में शराब बेचने वाला अरेस्ट, राशन की दुकान को बना रखा था वाइन शॉप

Ghaziabad : ब्लैक में शराब बेचने वाला अरेस्ट, राशन की दुकान को बना रखा था वाइन शॉप

ब्लैक में शराब बेचने वाला अरेस्ट, राशन की दुकान को बना रखा था वाइन शॉप

Google Image | Symbolic Image

Ghaziabad : जिले में अवैध शराब के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत आबकारी विभाग की टीम ने एक तस्कर को गिरफ्तार किया है। जिसके कब्जे से यूपी मार्का देशी शराब के पव्वे बरामद किया गया। पकड़ा गया तस्कर किराने की दुकान की आड़ में लाइसेंसी शराब की दुकान से शराब खरीद के क्षेत्र में दुकान बंद होने के बाद दोगुने दामों में बेचता था। दिन में किराने की दुकान चलाता था और रात में उसी दुकान से शराब की तस्करी करता था। उत्तर प्रदेश शासन और आबकारी आयुक्त द्वारा दिए गए आदेश के क्रम में जिलाधिकारी एवं पुलिस आयुक्त के निर्देशन में जिले में अवैध शराब के निर्माण, बिक्री एवं परिवहन पर रोक लगाने के लिए विशेष प्रवर्तन अभियान चलाया जा रहा है।

आबकारी विभाग की कार्यवाही जारी
जिला आबकारी अधिकारी राकेश कुमार सिंह ने बताया कि अवैध शराब के खिलाफ आबकारी विभाग की टीमें लगातार हाईवे, ढाबा, रेस्टोरेंट एवं दिल्ली बोर्डर पर चेकिंग कर रही है। शुक्रवार तड़के सूचना मिली की नंदग्राम थाना क्षेत्र में एक व्यक्ति दोगुने दामों में शराब की बिक्री कर रहा है। सूचना पर तत्काल कार्रवाई करते हुए आबकारी निरीक्षक अभय दीप सिंह की टीम को दबिश देने के लिए निर्देश दिए। आबकारी निरीक्षक की टीम ने सूचना मिलते ही थाना नन्दग्राम अंतर्गत नूरनगर, नई बस्ती, सिक्रोड, दीनदयालपुरी, सिहानी, सेवा नगर आदि स्थानों पर दबिश दी।

इंडिया देशी शराब बरामद
दबिश के दौरान करीब सुबह 7 बजे दीनदायलपुरी में एक किराने की दुकान के पास चरण सिंह पुत्र संचु सिंह निवासी दीनदायलपुरी अवैध रुप से शराब की बिक्री करता हुआ पाया गया। जिसके कब्जे से 21 पव्वे मिस इंडिया देशी शराब यूपी मार्का बरामद किया गया। जिसके खिलाफ नंदग्राम थाने में आबकारी अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए जेल भेजा गया। जिला आबकारी अधिकारी ने बताया पूछताछ में पकड़े गए तस्कर ने बताया कि वह उक्त शराब को लाइसेंसी शराब की दुकान से पहले ही खरीदकर अपनी किराने की दुकान पर लाकर रख लेते था। जब ठेके रात में बंद हो जाते तो उसी शराब को दुकान पर आने वाले लोगों को दोगुने दामों सप्लाई करता था। किराने की दुकान होने की वजह से कोई शक भी नही करता था। जिसका फायदा उठाकर वह शराब तस्करी का भी कारोबार करने लगा। अवैध शराब के खिलाफ चलाया जा रहा अभियान आगे भी जारी रहेगा।

Copyright © 2022 - 2023 Tricity. All Rights Reserved.