ऑटो चालक निकलना शातिर अपराधी, ड्राइवर बन 100 लोगों के साथ किया बड़ा कांड, गैंग के 4 बदमाश गिरफ्तार

गाजियाबाद पुलिस की बड़ी कामयाबी : ऑटो चालक निकलना शातिर अपराधी, ड्राइवर बन 100 लोगों के साथ किया बड़ा कांड, गैंग के 4 बदमाश गिरफ्तार

ऑटो चालक निकलना शातिर अपराधी, ड्राइवर बन 100 लोगों के साथ किया बड़ा कांड, गैंग के 4 बदमाश गिरफ्तार

Tricity Today | गिरफ्तार आरोपी

ऑटो चालक निकलना शातिर अपराधी, ड्राइवर बन 100 लोगों के साथ किया बड़ा कांड, गैंग के 4 बदमाश गिरफ्तार Ghaziabad News : गाजियाबाद टीला मोड़ थाना पुलिस ने ऑटो गैंग के 4 बदमाशों को गिरफ्तार किया हैं। आरोपियों में 2 सगे भाई भी शामिल हैं। इसी गैंग ने 20 दिसंबर को लिंक रोड थाना क्षेत्र में आयकर निरीक्षक वेदप्रकाश शर्मा के साथ लूटपाट की थी। पुलिस अधीक्षक ट्रांस हिंडन ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपियों की पहचान हर्ष विहार, दिल्ली के अश्वनी उर्फ जीतू, रामेश्वर उर्फ अंकित और दो सगे भाई सूरज और संजय के रूप में हुई है। आरोपी दिल्ली से किराए पर ऑटो लेकर निकलते थे। संजय आटो चलाता था और बाकी तीनों सवारी बनकर उसमें बैठते थे। एक सवारी को बीच में बैठाते थे और सुनसान स्थान देखकर सवारी को असलहा के बल पर लूट लेते थे। 

आयकर निरीक्षक के साथ की थी लूटपाट
पुलिस ने बताया कि इन आरोपियों ने बीते 20 दिसंबर 2021 की शाम लिंक रोड थाना क्षेत्र में इंदिरापुरम के आयकर निरीक्षक वेदप्रकाश शर्मा का मोबाइल और अन्य सामान लूटा था। पूछताछ में पता चला है कि उन्होंने मोबाइल बेच दिया है, पुलिस उसे सर्विलांस पर लगाकर जानकारी जुटाई जा रही है। पुलिस ने बताया कि इस गिरोह ने एक जनवरी को आक्सी होम सोसायटी के पास यतेंद्र की डंडों से पिटाई करके मोबाइल और 400 रुपये लूट थे। पुलिस ने उसकी रिपोर्ट दर्ज करके छानबीन शुरू की गई। 

अश्वनी है गिरोह का सरगना
पुलिस ने शिकायत पर ऑटो के अंतिम चार नंबरों के आधार पर छानबीन आगे बढ़ाई और सीसीटीवी फुटेज खंगाले। उसके आधार पर बदमाशों का सुराग मिला और रविवार रात में उन्हें दबोच लिया गया। पकड़े गए बदमाश शातिर अपराधी हैं। वारदात के वक्त लोगों के साथ मारपीट करते थे। असलहे के बट और डंडों से लोगों को घायल करके सड़क के किनारे फेंक देते थे। इनके खिलाफ गाजियाबाद और दिल्ली में मुकदमे दर्ज हैं। अश्वनी गिरोह का सरगना है। उसके खिलाफ 26 मुकदमे दर्ज हैं। 

एक साथ रहते थे बदमाश
पुलिस ने बताया कि अश्वनी की काॅलोनी में रहने वाले दो सगे भाईयों सूरज, संजय और रामेश्वर एक साथ गिरोह बनाकर वारदात को अंजाम देते है। अब तक इस गिरोह ने करीब 100 वारदातों को अंजाम दिया है। उसका विवरण एकत्र किया जा रहा है। आरोपियों के कब्जे से लूट के 7 मोबाइल, चोरी की टाटा सूमो कार और बाइक और वारदात को अंजाम देने में प्रयुक्त आटो, तमंचा, चाकू, डंडा बरामद हुआ। टाटा सूमो उन्होंने जनकपुरी वेस्ट दिल्ली और बाइक सिहानी गेट से चुराई थी।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.