प्लॉट के चक्कर में हुआ शिकार, पुलिस से लगाई मदद की आस

गाजियाबाद में आरपीएफ जवान से 16 लाख की ठगी : प्लॉट के चक्कर में हुआ शिकार, पुलिस से लगाई मदद की आस

प्लॉट के चक्कर में हुआ शिकार, पुलिस से लगाई मदद की आस

Google Image | Symbolic Image

Ghaziabad : मोदीनगर में प्लॉट दिलाने के नाम पर खतौली निवासी आरपीएफ के जवान से 16 लाख रुपए ठगी का मामला सामने आया है। पीड़ित जब बताए गए प्लॉट पर कब्जा लेने के लिए गए तो उन्हें अपने साथ ठगी का एहसास हुआ। पीड़ित ने मुरादनगर थाने में तहरीर दी है। पुलिस जांच के बाद कार्रवाई की बात कह रही है। पीड़ित का कहना है कि अगर गाजियाबाद पुलिस उसको न्याय नहीं देती है तो वह लखनऊ योगी आदित्यनाथ के दरबार में जाकर भी मदद की गुहार लगाएगा।

क्या है पूरा मामला
जिला मुजफ्फरनगर के खतौती की तिलकनगर कॉलोनी निवासी उस्मान परिवार के साथ रहते हैं। वह आरपीएफ में तैनात हैं। इन दिनों उनकी ड्यूटी विशाखापटनम में चल रही है। उनकी ससुराल मुरादनगर में ही है। साल 2020 में उनके रिश्ते के साले ने जलालपुर मार्ग पर एक प्लॉट दिखाया था। प्लॉट रावली कलां निवासी एक व्यक्ति का था। प्लॉट पंसद आने पर उस्मान ने प्लॉट स्वामी में एडवांस दे दिया और कुछ दिन बाद मोदीनगर तहसील जाकर बैनामा भी कर लिया। 

पुलिस से लगाई मदद की आश 
मिली जानकारी के मुताबिक उन्होंने 340 गज प्लॉट 16 लाख रुपए से अधिक की कीमत पर लिया था। पिछले दिनों जब वह उक्त प्लॉट पर कब्जा लेने के लिए गए तो वहां पर पता चला कि यह प्लॉट किसी और का है। जब पीड़ित ने प्लॉट स्वामी से कब्जा दिलाने की बात की तो वह आनाकानी करने लगा। पैसे वापस मांगने पर पीड़ित को परिवार सहित जान से मारने की धमकी दी जा रही है। पीड़ित उस्मान ने मुरादनगर थाने में तहरीर दी है। पुलिस जांच के बाद कार्रवाई करने की बात कह रही है।

Copyright © 2022 - 2023 Tricity. All Rights Reserved.