गाजियाबादः बेखौफ बदमाशों ने दवा कारोबारी के घर में घुसकर 10 लाख की डकैती की, पीड़ित परिवार से मारपीट कर हुए फरार

बेखौफ बदमाशों ने दवा कारोबारी के घर में घुसकर 10 लाख की डकैती की, पीड़ित परिवार से मारपीट कर हुए फरार

Google Image | मौके पर पहुंची पुलिस

  • शहर की सबसे पॉश कालोनी भी सुरक्षित नहीं
  • राजनगर में रविवार की सुबह साढ़े तीन बजे हुई वारदात
गाजियाबाद में लगातार कार्रवाई के बावजूद भी बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। शहर की सबसे पॉश कालोनी राजनगर के सेक्टर-6 में आधा दर्जन हथियार बंद बदमाशों ने एक प्रतिष्ठित दवा कारोबारी के घर को निशाना बनाया। शनिवार-रविवार की रात करीब साढ़े तीन बजे इन बदमाशों ने घर पर धावा बोल दिया। दवा कारोबारी और उनकी पत्नी संग मारपीट कर डेढ़ लाख की नगदी और करीब दस लाख रुपये के जेवर ले गए। बताया जा रहा है कि चार बदमाश खिड़की के रास्ते कारोबारी के घर के अंदर घुसे थे। जबकि तीन बदमाश बाहर खड़े होकर स्थिति पर निगाह रखे हुए हैं। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। 

दवा कारोबारी पवन गर्ग राजनगर के सेक्टर-6 की पांच नंबर कोठी में रहते हैं। उन्होंने बताया कि इस कोठी में वह अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ रहते हैं। उनकी चोपला बाजार में जय दयाल सतीश चंद नाम से आयुर्वेदिक दवाओं का काफी पुराना कारोबार है। शनिवार की रात वह अपने परिवार के साथ घर में सो रहे थे। करीब साढ़े तीन बजे चार नकाबपोश बदमाश खिड़की का ग्रिल काटकर उनके घर में घुसे। इनमें से दो बदमाशों के पास पिस्टल था। 

नगदी और गहनों की मांग की
बदमाशों ने कारोबारी को जगाया और मारपीट करते हुए नगदी मांगने लगे। शोरगुल सुनकर दूसरे कमरे में सो रही उनकी पत्नी उठकर आ गई। बदमाशों ने उन्हें भी तमंचे की दम पर डराया-धमकाया। इसके बाद उन्होंने घर में रखी नगदी और जेवर, तथा पहने हुए जेवर भी उतार कर बदमाशों को दे दिए। इसके बाद बदमाशों ने दोनों को अलग स्थान पर बिस्तर पर औंधे मुंह लिटा कर कंबल से ढंक दिया और फरार हो गए।

बदमाशों को थी जानकारी
पीड़ित पवन गर्ग ने बताया कि बदमाशों को उनके घर में पांच लाख से ज्यादा की नगदी होने की जानकारी थी। जबकि वह दुकान से नगदी घर में लाने के बजाय लॉकर और एक अन्य स्थान पर रखते थे। इसलिए उनके घर में सिर्फ जरूरत के लिए करीब डेढ़ लाख रुपये ही मौजूद थे। उन्होंने बताया कि वारदात के वक्त बदमाश उनसे इन्हीं पांच लाख रुपयों के बारे में पूछ रहे थे। बदमाश कह रहे थे कि उन्हें घर में पांच लाख रुपये होने की सूचना मिली है।

नकाब में थे बदमाश
पवन गर्ग की पत्नी रिशू गर्ग ने बताया कि चारों बदमाश नकाब पहने हुए थे। उनके चेहरे ढंके हुए थे। नकाब में सिर्फ आंख के स्थान पर छेद हुए थे। जबकि बाहर खड़े बदमाश सामान्य मास्क लगाए हुए थे। पीड़ित परिवार आशंका जता रहा है कि बाहर खड़े बदमाशों में कोई उनका परिचित भी हो सकता है। एसएसपी कलानिधि नैथानी का कहना है कि बदमाशों को पकड़ने के लिए तीन टीमों का गठन कर दिया गया है। बहुत जल्द इस लूट कांड का खुलासा हो जाएगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.