COVID-19 UPDATE: गाजियाबाद के सांसद और केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह हुए कोरोना पॉजिटिव, स्टाफ के कई कर्मचारी भी हुए संक्रमित

गाजियाबाद के सांसद और केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह हुए कोरोना पॉजिटिव, स्टाफ के कई कर्मचारी भी हुए संक्रमित

Google Image | VK Singh

गजियाबाद जनपद में कोरोना महामारी की दुसरी लहर इतनी तेजी से बढ रही है। प्रतिदिन कोरोना की जांच कराने के लिए अस्पताल में लंबी लाइन लग रही है। जांच के घंटो लोगों को इंतजार करना पड़ रहा है। कोरोना संक्रमण की चपेट में गाजियाबाद से सांसद और केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए है। जनरल वीके सिंह के साथ काम करने वाला स्टाफ के कई कर्मचारी भी इस वायरस की चपेट में आ गए है। जिसके बाद वीके सिंह ने खुद को होम आइसोलेट कर लिया है। 

जनरल वीके सिंह ने अधिकारियों को आदेश दिए कि ये सार्वजनिक करें कि किस कोविड अस्पताल में तब्दील किए गए प्राइवेट अस्पताल में कितने बेड रिजर्व किए गए है। इन अस्पतालों में कितनों में आईसीयू और वेंटिलेटर की सुविधा है। रामा हास्पिटल में 400 बेड रिजर्व किए गए है। 

जनरल वीके सिंह ने सवालों के जबाव में कहा कि रेमडिसिविर इंजेक्शन के नाम पर कुछ प्राइवेट नर्सिंग होम संचालकों के द्वारा भ्रम के हालात पैदा किए हुए है। उन्होंने कहा कि तमाम सरकारी अस्पतालों में इंजेक्शन उपलब्ध करा दिया गया है। प्राइवेट अस्पताल संचालकों मनमानी न कर सकें इसके लिए नई व्यवस्था लागू की गई है। नई व्यवस्था के अंतर्गत अब जिस किसी भी पीडित को इंजेक्शन लगाया जाना है, उसका आधार कार्ड एडीएम सिंह स्तर के अधिकारी के सामने प्रस्तुत करना होगा। इसके साथ ही तय स्टोर से इंजेक्शन उपलब्ध होगा। यदि किसी नसिंह होम संचालक के द्वारा किसी पीडित के परिजन को बाहर से इंजेक्शन लाने से जुडी पर्ची दिए जाने का मामला सामने आता है तो प्रशासन संबंधित नर्सिंग होम संचालक के खिलाफ कार्रवाई करेंगा।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.