COVID-19 BREAKING: गाजियाबाद ने नोएडा को पछाड़ा, संक्रमण के 595 नए मामले आए, टूट गए सारे रिकॉर्ड

गाजियाबाद ने नोएडा को पछाड़ा, संक्रमण के 595 नए मामले आए, टूट गए सारे रिकॉर्ड

Google Photo | Symbolic Photo

Coronavirus in Ghaziabad : गाजियाबाद में आज कोरोना संक्रमण ने नया रिकॉर्ड बना दिया है। जिले में शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 595 नए मामले दर्ज किए गए हैं। पिछले साल भी एक दिन में कोरोना वायरस के इतने मामले सामने नहीं आए थे, जितने आज आ गए हैं। इन डरावने मामलों के सामने आने के बाद गाजियाबाद जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की नींद उड़ गई है। आज गाजियाबाद ने कोरोना के मामलों में नोएडा को भी पीछे छोड़ दिया है। 

गाजियाबाद के निगरानी अधिकारी ने बताया कि जनपद में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस के 595 नए मामले दर्ज किए गए हैं। वहीं, इसी समय के दौरान जनपद में 50 मरीज कोरोना संक्रमण से ठीक होकर अपने घर लौटे हैं। उन्होंने बताया कि गाजियाबाद के अलग-अलग अस्पतालों में इस समय 2,260 मरीजों का इलाज किया जा रहा है। वहीं, 27,598 लोग ऐसे हैं, जो अपना कोरोना वायरस का इलाज करवा कर वापस अपने घर लौट गए हैं। जनपद में अभी तक 104 लोगों की मौत कोरोना वायरस के कारण हो चुकी है। रिपोर्ट के अनुसार गाजियाबाद जिले में अभी तक 29,962 लोग कोरोना संक्रमण का शिकार हो चुके है।

इन सभी को देखते हुए गाजियबाद के जिलाधिकारी डाॅ.अजय शंकर पांडेय ने शुक्रवार को हाईलेवल बैठक की है। जिसमें उन्होंने जिले के अधिकारियों के साथ बढ़ रहे कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए चर्चा की है। उन्होंने आदेश जारी करते हुए कहा कि जिले के सभी मंदिरों और मस्जिदों के लाउडस्पीकरों का इस्तेमाल लोगों को जागरूक करने के लिए किए जाए।

वहीं, दूसरी और अगर पूरे उत्तर प्रदेश की बात करें तो राज्य में भी कोरोनावायरस के संक्रमण में नया रिकॉर्ड कायम किया है। पिछले 24 घंटों के दौरान 27,426 नए मरीज रिकॉर्ड किए गए हैं। इस दौरान राज्यभर के अस्पतालों से 6,429 संक्रमित लोग स्वस्थ होकर अपने घर वापस लौट गए हैं। अब तक उत्तर प्रदेश में 7,93,720 लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 6,33,461 मरीज स्वस्थ हुए हैं। दुर्भाग्यपूर्ण परिस्थितियों के चलते पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 103 लोगों की मौत हुई है। वहीं, पिछले एक वर्ष के दौरान इस महामारी ने 9,583 लोगों को उनके परिजनों से छीन लिया है।

कुल मिलाकर इस वक्त उत्तर प्रदेश में हाहाकार का माहौल है। बड़ी बात यह है कि संक्रमण की इस दूसरी वेव ने विकराल रूप धारण कर लिया है। पिछले साल उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस को काबू करने में राज्य सरकार ने कामयाबी हासिल कर ली थी। इस बार अभी तक सारे इंतजाम नाकाफी नजर आ रहे हैं। खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ संक्रमण की चपेट में हैं।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.