बड़ी खबर: केंद्रीय मंत्री के आवास से महज 100 मीटर की दूरी पर हुई 15 लाख की डकैती, आधे घंटे तक घर में तांडव करते रहे बदमाश, सुरक्षा पर उठे सवाल

केंद्रीय मंत्री के आवास से महज 100 मीटर की दूरी पर हुई 15 लाख की डकैती, आधे घंटे तक घर में तांडव करते रहे बदमाश, सुरक्षा पर उठे सवाल

Tricity Today | मौके पर पहुंची पुलिस

  • घटना के बाद कानून-व्यवस्था को लेकर हुई बैठक
  • लोगों ने कहा- पॉश कालोनी के वीवीआईपी भी नहीं सुरक्षित 
गाजियाबाद में बेखौफ बदमाशों ने एक केंद्रीय मंत्री के आवास से महज 100 मीटर की दूरी पर एक बड़े लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया। बदमाशों ने कानून-व्यवस्था को धता बताते हुए आयुर्वेदिक दवा कारोबारी के घर में रविवार की रात डकैती की। बदमाश इतने बेखौफ थे कि परिवार को हथियारों के बल पर बंधक बनाया। फिर आराम से करीब आधा घंटा कारोबारी के घर की अलमारी को खंगालते रहे। इस घटना के बाद से गाजियाबाद पुलिस पर लोग सवाल उठाने लगे हैं। 

राजनगर, गाजियाबाद का पॉश इलाका है। यहां कई वीवीआईपी और केंद्रीय मंत्री का घर है। आसपास 500 मीटर की दूरी में विधायक के साथ डीएम-एसएसपी का भी आवास है। उसके बाद भी निडर अपराधी वारदातों को अंजाम देकर फरार हो जाते हैं। कविनगर क्षेत्र स्थित राजनगर में रविवार की सुबह करीब तीन बजे आयुर्वेदिक दवा कारोबारी के घर आधा दर्जन नकाबपोश हथियारबंद बदमाशों ने डकैती की वारदात की। विरोध करने पर मारपीट की और 15 लाख रुपए का माल लूटकर फरार हो गए। बदमाश खिड़की उखाड़कर घर के अंदर खुसे थे। इस वारदात के बाद से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच-पड़ताल की। डकैती की रिपोर्ट दर्ज कर बदमाशों की तलाश की जा रही है। 

यह है पूरा मामला
राजनगर सेक्टर-6 की कोठी नंबर-5 बी में पवन गर्ग, पत्नी रिशु गर्ग और दो बेटों शिवा गर्ग (15 वर्ष) व आधर्व (13 वर्ष) के साथ रहते हैं। पवन गर्ग की चौपला मंदिर के निकट भोला नाथ पंसारी के बराबर में जय दयाल सतीश चंद्र के नाम से आयुर्वेदिक दवा का कारोबार है। पवन गर्ग ने बताया कि रविवार सुबह करीब 3:30 बजे नकाबपोश 7 बदमाश घर के बाहरी हिस्से में लगी खिड़की उखाड़कर घर में घुस आए और सो रहे परिवार को गन पॉइंट पर ले लिया।उन्होंने बताया कि चार बदमाश कमरे में थे, जबकि दो बदमाश गैलरी में खड़े थे। 

हाथों में हथियार थे
कमरे में आए चारों बदमाशों में से दो के हाथ में तमंचे और दो के हाथ में चाकू थे। शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी। विरोध करने पर मारपीट करने लगे और इसके बाद घर में रखे करीब 15 लाख रुपए के जेवरात, डेढ़ लाख रुपए की नकदी के अलावा अन्य कीमतीसामान लूटकर फरार हो गए। घटना के बाद पीडि़त ने सूचना पुलिस को दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे एसएसपी कलानिधि नैथानी, एसपी सिटी निपुण अग्रवाल, सीओ सैकेंड अवनीश कुमार, कविनगर थाना प्रभारी अजय पाल सिंह ने जांच पड़ताल शुरू की।

घर का कोना-कोना खंगाला
पीडि़त पवन गर्ग ने बताया कि बदमाशों ने उन्हें और उनके दोनों बेटों को जमीन पर लिटाने के बाद कंबल से ढक दिया था, जबकि पत्नी के साथ मारपीट करते हुए माल के बारे में पूछते रहे और घर को खंगालते रहे। जिस पर पत्नी ने माल के बारे में बता दिया। इसके बाद बदमाशों ने लूटपाट की।

आधे घंटे तक मचाया तांड़व
हरिथारबंद बदमाश करीब आधे घंटे तक घर में तांड़व मचाते रहे। कारोबारी ने बताया कि बदमाश करीब आधे घंटे तक उनके घर में रहे। अलमारी के अलावा हर जगह तसल्ली से खंगाली। उन्होंने बताया कि बदमाश जेवरात और नगदी के अलावा अन्य कीमती सामान भी लूटकर ले गए।

खौफ में परिवार 
आधा दर्जन हथियारबंद नकाबपोश बदमाशों द्वारा की गई डकैती की घटना से कारोबारी और उनके परिजनों बेहद खौफ है। रोते हुुए बच्चों ने घर में गंदे अंकल ने मुंह को ढका हुआ था और उनके साथ भी मारपीट भी की। शिवा गर्ग 9वीं और उसका छोटा भाई सातवीं में डासना स्थित डीपीएस इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ते हैं। घटना के वक्त नकाब पोश बदमाश जहां एक ओर कारोबारी को गन प्वांइट पर लेकर घर को खंगालते रहे और वहीं बच्चों के साथ भी लगातार मारपीट करते रहे। 

सीसीटीवी नहीं लगे हैं
एसपी सिटी प्रथम निपुण अग्रवाल ने बताया कि घर व आसपास कई कोठियों में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगे हुए हैं। हालांकि पुलिस दूर-दूर तक सीसीटीवी कैमरे की फुटेज देख रही है। दवा कारोबारी के घर में डाली डकैती के मामले में क्राइम ब्रांच,कविनगर थाना समेत पुलिस की 5 टीमें बदमाशों को गिरफ्तार करने के लिए लगाई गई है। सीसीटीवी फुटेज खंगाली गई। इसमें कुछ अहम सुराग हाथ लगे हैं। बदमाशों को जल्द गिरफ्तार कर डकैती का खुलासा किया जाएगा। पुलिस ने दवा कारोबारी और उसके परिजनों से बात की है। जांच पूरी करने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.