मृतक की पत्नी ने भांजी पर लगाए अवैध संबंध के आरोप, महिला समेत 3 पर मुकदमा दर्ज

अजीत सिंह मौत मामला : मृतक की पत्नी ने भांजी पर लगाए अवैध संबंध के आरोप, महिला समेत 3 पर मुकदमा दर्ज

मृतक की पत्नी ने भांजी पर लगाए अवैध संबंध के आरोप, महिला समेत 3 पर मुकदमा दर्ज

Google Image | Symbolic Photo

मृतक की पत्नी ने भांजी पर लगाए अवैध संबंध के आरोप, महिला समेत 3 पर मुकदमा दर्ज राजनगर एक्सटेंशन स्थित रामेश्वरम सोसाइटी की 7वीं मंजिल से गिरकर हुई अजीत सिंह की मौत के मामले में नंदग्राम थाने में हत्या का केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने मृतक अजीत सिंह की पत्नी की तहरीर पर दंपति समेत 3 लोगों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज की है। आरोप है कि नामजद आरोपी महिला ने पहले तो अजीत से अवैध संबंध बनाए और फिर एक फर्म में पार्टनर बनाने के नाम पर उनसे लाखों रुपए ऐंठ लिए। बाद में तीनों आरोपियों ने उनकी हत्या कर सोसाइटी की 7वीं मंजिल से उन्हें फेंक दिया। 

गुरुग्राम हरियाणा निवासी रचना सिंह का कहना है कि उनके पति अजीत सिंह पहले एक मल्टीनेशनल कंपनी में हेड थे। बीते मार्च में उन्होंने जॉब छोडकर अपनी ही एक कारोबारी फर्म बना ली थी। रचना ने बताया कि अजीत सिंह के दूर के रिश्ते में लगने वाली उनकी भांजी राखी सिंह अपने पति अमित सिंह के साथ राजनगर एक्सटेंशन स्थित रामेश्वरम सोसाइटी में रहती है। रिश्तेदारी के चलते अजीत का राखी के फ्लैट पर आना-जाना था। 

रचना का आरोप है कि इस आने जाने के दौरान ही राखी ने उनके पति अजीत से अवैध संबंध बना लिए थे। इसके बाद राखी और उसके पति अमित ने ए एण्ड ए इंफ्राटेक टेलीकॉम प्रालि नामक फर्म में पार्टनरशिप के नाम पर अजीत से लाखों रुपए हड़प लिए। इस फर्म की प्रोपराइटरशिप राखी ने अपने नाम कर ली। 

आरोप है कि 21 अगस्त को राखी और उसके पति अमित ने उनके पति अजीत की अपने फ्लैट में ही हत्या कर फ्लैट से नीचे फेंक कर मामले को आत्महत्या दर्शाने का प्रयास किया। पीड़िता का कहना है कि 21 अगस्त को उनके पति अजीत सिंह गुरुग्राम से राखी और उसके पति अमित से फर्म का हिसाब किताब करने यहां आए थे। घर से निकलने से पूर्व उन्होंने रचना से कहा था कि वह आज राखी और उसके पति से अपना हिसाब किताब कर उनसे संबंध खत्म कर देंगे। इसके बाद अजीत वापस घर नहीं लौटे। 

रचना ने बताया कि शाम करीब 4 बजे उन्हें पुलिस ने अजीत के राखी और अमित के फ्लैट के नीचे मृत हालत में पड़े होने की सूचना दी थी। जिसके बाद वह अपने परिजनों के साथ यहां आईं और शव को गुरुग्राम ले जाया गया। मृतक की पत्नी का कहना है कि पति की मौत पर तीन दिनों तक वह बेसुध रहीं। जिसकी वजह से पुलिस से शिकायत नहीं कर पाईं। इसके बाद जब वह शिकायत करने नंदग्राम थाने पहुंची तो पुलिस ने अजीत की मौत को आत्महत्या बताकर उन्हें टरका दिया। 

पुलिस द्वारा सुनवाई नहीं करने पर उन्होंने सीएम पोर्टल पर शिकायत की और सीएम योगी आदित्यनाथ को टैग करते हुए कई ट्वीट किए। इस मामले की जांच सीओ सेकेंड अवनीश कुमार को सौंपी गई। तमाम शिकायतों के बाद 2 सितम्बर को पुलिस ने उनकी तहरीर पर राखी, उसके पति अमित सिंह और कुलविंदर सिंह के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज की। 

सीओ सैकेंड अवनीश कुमार ने बताया कि जांच पड़ताल के बाद रचना सिंह की तहरीर पर पति की हत्या का केस दर्ज कर लिया गया है। इसमें राखी सिंह, उसके पति अमित सिंह और कुलविंदर सिंह को आरोपी बनाया गया है। साक्ष्यों के आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई में जुटी है।
 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.