डेढ़ महीने से उपासना के साथ थी उसकी दर्दनाक मौत, मोबाइल नंबर एक्सचेंज के बाद हुई वारदात, जानिए पूरा मामला

गाजियाबाद में सनसनीखेज मामला : डेढ़ महीने से उपासना के साथ थी उसकी दर्दनाक मौत, मोबाइल नंबर एक्सचेंज के बाद हुई वारदात, जानिए पूरा मामला

डेढ़ महीने से उपासना के साथ थी उसकी दर्दनाक मौत, मोबाइल नंबर एक्सचेंज के बाद हुई वारदात, जानिए पूरा मामला

Tricity Today | पुलिस ने ऑटो बंटी ड्राइवर को गिरफ्तार किया

डेढ़ महीने से उपासना के साथ थी उसकी दर्दनाक मौत, मोबाइल नंबर एक्सचेंज के बाद हुई वारदात, जानिए पूरा मामला Ghaziabad News : लोनी बोर्डर थाना क्षेत्र में हुई 5 दिन पूर्व हुई रूप 25 वर्षीय उपासना की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने ऑटो ड्राइवर को गिरफ्तार किया है। आरोपी ड्राइवर ने एक तरफा प्यार में युवती की हत्या की वारदात को अंजाम दिया था। मृतिका उपासना दिल्ली के मंडोली के एक निजी कंपनी में काम करती थी। बंटी निवासी लोनी बोर्डर ऑटो ड्राइवर है। 

डेढ़ माह हुई थी मुलाकात
करीब डेढ़ माह पूर्व मृतिका उपासना ड्राइवर बन्टी के ऑटो में बैठकर अपने घर से दिल्ली जाने के लिए निकली थी। तभी ऑटो ड्राइवर ने रूप सिंह को आने-जाने के नाम पर उसका मोबाइल नंबर ले लिया था। इस दौरान दोनों के बीच में बात होने लगी। मगर ऑटो ड्राइवर इस दौरान युवती से एक तरफा प्यार करने लगा था। युवती को डराने के लिए अपने हाथ की कलाई तक काट दी थी और जान देने की बात करने लगा था। मगर ऑटो ड्राइवर की यह सनक इस तरह बढ़ी की गत 19 जनवरी की रात को उपासना पर चाकू से हमला कर घायल कर दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गया। गंभीर हालत में युवती को उपचार के लिए दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां करीब दो दिन पूर्व युवती की उपचार के दौरान मौत हो गई।

ऑटो चालक बन्टी गिरफ्तार
सीओ लोनी रजनीश कुमार उपाध्याय ने बताया कि लोनी बोर्डर थाना प्रभारी सचिन कुमार, बृज किशोर गौतम, कृष्ण कुमार की टीम ने सर्विलांस की मदद और मुखबिर की सूचना पर अरोडा ऑफिस गड्ढा कॉलोनी के पास से आरोपित ऑटो चालक बन्टी को गिरफ्तार किया है। जिसके पास से घटना में प्रयुक्त चाकू भी बरामद किया है। मृतिका के भाई सिंह उर्फ राहुल ने अज्ञात के खिलाफ लोनी बोर्डर थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। 

इलाज के दौरान तोड़ा दम
19 जनवरी की रात को मृतिका उपासना दिल्ली से नौकरी करने के बाद अपनी सहेली भावना के साथ घर जा रही थी। जैसे ही वह गुरूकुलम स्कूल के पास पहुंची तो ऑटो ड्राइवर बन्टी ने चाकू से हमला कर घायल कर दिया। मृतिका को उपचार के लिए दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मगर दो-तीन दिन पूर्व उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई। 

बंटी ने किया था प्यार का इजहार, लेकिन...
सीओ लोनी ने बताया कि आरोपी की मुलाकात करीब डेढ माह पूर्व उपासना से हुई थी। उस दौरान बंटी ने उपासना से यह कहकर उसका नंबर ले लिया कि कभी रात में लेट हो जाओं तो मुझे फोन कर देना मै आपको छोड़ दूंगा। जिस पर उपासना ने उसे अपना नंबर दे दिया। कुछ दिन तक वह उसे घर से आने और ले जाने लगा। इस दौराने ऑटो ड्राइवर ने उपासना को अपने प्यार का इजहार किया। तब उपासना ने मना कर दिया। उसके बाद ऑटो ड्राइवर ने उसे डराने के लिए अपने हाथ की नस काट ली, जिसके बाद वह नही मानी तो ऑटो ड्राइवर ने उसे जान देने की बात कहीं। तब से उपासना ने उसके ऑटो में बैठना छोड़ दिया। जिससे वह उसे मारने के लिए उसका पीछा करने लगा था। 

पीठ पर वार कर मौत के घाट उतारा
19 जनवरी की रात को आरोपी ने पीछे से आकर चाकू से उपासना की पीठ पर वार कर दिया और मौके से फरार हो गया। उसके बाद जब मामले की जांच की गई तो महिला के मोबाइल से आरोपी का नंबर मिला और उसके मैसेज मिले। जिसके बाद पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी के लिए लगातार प्रयास कर रही थी। जिसे रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपित सनकी किस्म का अपराधी है, जिसने एक तरफा प्यार में युवती की हत्या की वारदात को अंजाम दिया था।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.