अच्छी खबर : गाजियाबाद में अब नहीं होगी ऑक्सीजन की किल्लत, नोडल प्रभारी ने तैयार किया फूल प्रूफ प्लान, जानिए क्या

गाजियाबाद में अब नहीं होगी ऑक्सीजन की किल्लत, नोडल प्रभारी ने तैयार किया फूल प्रूफ प्लान, जानिए क्या

Tricity Today | नोडल प्रभारी ने तैयार किया फूल प्रूफ प्लान

जनपद में एक तरफ कोरोना का महासंकट खड़ा है, तो वहीं दूसरी तरफ ऑक्सीजन जैसी जरूरी चीजों की किल्लत हो रही है। इस बीच ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए ऑक्सीजन के नोडल प्रभारी नगर आयुक्त ने फूल प्रूफ प्लान तैयार करना शुरू कर दिया है। जिससे जनपद के अस्पतालों में हो रही ऑक्सीजन की किल्लत को दूर किया जा सकेगा। अब अस्पतालों में वास्तिविक खपत के आधार पर ही ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाएगी। नगर आयुक्त के इस प्लान से जहां अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत तो दूर होगी ही साथ ही मरीजों को भी ऑक्सीजन मिलती रहेगी। 

पिछले कुछ दिनों से अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत के चलते कई मरीजों की जान जा चुकी है। जिसको लेकर नगर आयुक्त ने यह प्लान तैयार किया है। अपने कार्यालय में ऑक्सीजन के नोडल प्रभारी नगर आयुक्त महेंन्द्र सिंह तंवर ने नोडल अधिकारी शैलेन्द्र सिंह समेत प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वार्ता की। कोरोना से संक्रमित शहर के मरीजों को देखा जा रहा है की पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है। जिस कारण मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस विकराल समस्या का समाधान करने और ऑक्सीजन की उपलब्धता के लिए उचित व्यवस्था बनाने का कार्य नगर आयुक्त महेंन्द्र सिंह तंवर ने किया। 

नोडल प्रभारी नगर आयुक्त महेंन्द्र सिंह तंवर ने बताया कि अस्पतालों में निरीक्षण कर प्रति बेड कितनी ऑक्सीजन की आवश्यकता प्रतिदिन है, एक अस्पताल को इस प्रकार कितने ऑक्सीजन सिलेंडर की आवश्यकता है। इस डिमांड को सर्वप्रथम कैलकुलेट किया जाएगा। जिसके बाद शहर के कोरोना मरीजों की संख्या को ध्यान में रखते हुए ऑक्सीजन की उपलब्धता कराई जाएगी। जिससे अस्पतालों में वास्तिविक खपत के आधार पर ऑक्सीजन की सप्लाई की जाएगी। 

उन्होने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अस्पतालों में प्रति बेड, प्रतिदिन ऑक्सीजन की खपत के अनुसार ऑक्सीजन डिमांड और सप्लाई को मेंटेन करने की रिपोर्ट, अस्पतालों के प्रबंधकों और शहर के इच्छुक ऑक्सीजन प्रोवाइडर, संस्थाओं और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ लगातार समन्वय स्थापित, अस्पतालों में उपस्थित स्टाफ को पूर्ण रूप से सुरक्षित रखे जाने की रिपोर्ट, अस्पतालों में उपचार के लिए उपलब्ध दवाई-इंजेक्शनों की आपूर्ति की रिपोर्ट, वेंटिलेटर, आईसीओ, सामान्य बेड, ऑक्सीजन बेड की प्रति घंटा रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। 

अन्य योजनाओं को लागू कर कोरोना संक्रमत मरीजों की देखभाल और उन्हें सही उपचार और ऑक्सीजन उपलब्ध कराने का कार्य बेहतर प्रयास कर किया जा रहा है। गत दिनों जनपद के अस्पतालों में ऑक्सीजन की पूर्ण रूप से सप्लाई न होने से सैकड़ो लोग जान गवा चुके है। लेकिन नगर आयुक्त के फूल प्रूफ प्लान से जनपद के अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत दूर होती नजर आ रही है। ऑक्सीजन की सप्लाई को लेकर नगर आयुक्त ने अस्पतालों का निरीक्षण कर प्लान बनाना शुरू कर दिया है। लगातार प्रशासनिक अधिकारियों की टीम और अस्पताल के प्रबंधकों से समन्वय स्थापित किया जा रहा है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.