सलाम नमस्ते : बारह साल का हुआ नोएडा-गाजियाबाद का पहला कम्यूनिटी रेडियो, जानिए कुछ पुरस्कृत और पसंदीदा कार्यक्रमों के बारे में

बारह साल का हुआ नोएडा-गाजियाबाद का पहला कम्यूनिटी रेडियो, जानिए कुछ पुरस्कृत और पसंदीदा कार्यक्रमों के बारे में

Tricity Today | बारह साल का हुआ नोएडा-गाजियाबाद का पहला कम्यूनिटी रेडियो

इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज, (आईएमएस) नोएडा का सामुदायिक रेडियो सलाम नमस्ते 90.4 इस महीने 12 साल का हो गया है। रविवार को रेडियो ने अपने स्थापना दिवस पर एक वर्चुअल कार्यक्रम का आयोजन किया। कार्यक्रम में शहर की तमाम नामी-गिरामी सामाजिक हस्तियों और एनजीओ के सदस्यों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम के दौरान रेडियो सलाम नमस्ते के पिछले 12 वर्षों की सफलता की कहानी और इस पर प्रसारित होने वाले नए कार्यक्रमों की जानकारी दी गई। 

सलाम नमस्ते की स्टेशन हेड बर्षा छबारिया ने बताया कि यह कम्यूनिटी रेडियो पिछले 12 वर्षों से सतत स्वास्थ्य, शिक्षा, स्वछता, स्थानीय समस्या,  महिला सशक्तिकरण, लोक संस्कृति, भाषा, स्थानीय प्रतिभा, हुनर और समाज के पिछड़े कमजोर तबकों के लिए लगातार काम कर रहा है। सलाम नमस्ते जल्दी ही भारतीय संस्कृति और स्थानीय प्रतिभा को ध्यान में रखते हुए सतत विकास एवं भारतीय कला पर आधारित कार्यक्रमों की शुरुआत करने जा रहा है। रविवार को कार्यक्रम के दौरान आर्ट मंथन, भारतीय कला ऑनलाइन प्रतियोगिता की आधिकारिक घोषणा की गई। इस कार्यक्रम में 4 से अधिक वर्ष के कलाकार अपनी कला को ऑनलाइन या कुरियर के जरिए सलाम नमस्ते को भेज सकते हैं। आर्ट मंथन भारतीय कला ऑनलाइन प्रतियोगिता के विजेता की घोषणा इस महीने के आखिरी हफ्ते में की जाएगी। 

बताते चलें कि रेडियो सलाम नमस्ते नोएडा और गाज़ियाबाद का पहला सामुदायिक रेडियो है। अपनी स्थापना के वर्ष 2009 से ही यह रेडियो सतत सामाजिक मुद्दों को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रमों का प्रसारण करता आ रहा है। सलाम नमस्ते को बीते वर्षों में संसाधनहीन बच्चों पर आधारित कार्यक्रम “चक दे छोटू” और सलाम शक्ति के लिए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार से क्रमशः 2016 और 2019 में सम्मानित किया गया है। सेकेंड इनिंग्स को सलाम, मेड दीदी, सलाम सेहत, रेडियो ट्यूशन, सलाम स्कूल, करियर एक्सप्रेस, नन्ही आवाज़, बड़ी सीख और नोएडा के सारथी जैसे कार्यक्रमों के लिए भी सलाम नमस्ते को पुरस्कृत किया जा चुका है। इन कार्यक्रमों को श्रोताओं ने खूब सराहा था।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.