Ghaziabad : दिन में ऑनलाइन फ़ूड डिलीवरी और रात में एटीएम काटने वाले तीन बदमाश गिरफ्तार, फेसबुक से ली थी ट्रेनिंग

दिन में ऑनलाइन फ़ूड डिलीवरी और रात में एटीएम काटने वाले तीन बदमाश गिरफ्तार, फेसबुक से ली थी ट्रेनिंग

Google Image | प्रतीकात्मक फोटो

गाजियाबाद के कविनगर कोतवाली पुलिस ने एटीएम काटने का प्रयास करने वाले गिरोह का खुलासा करते हुए तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इन बदमाशों ने 12 फरवरी की रात आरडीसी स्थित यूनियन बैंक के एटीएम में घुसकर उसे काटने का प्रयास किया था। संयोग से उसी समय पुलिस की गाड़ी का सायरन बज गया और आरोपी वहां से भाग निकले थे।

आरडीसी चौकी प्रभारी प्रीति सिंह ने बताया कि पुलिस टीम गुरुवार की रात गश्त कर रही थी। इसी दौरान सूचना मिलने पर सनातन धर्म मंदिर के पास संदिग्ध परिस्थिति में खड़े तीन युवकों को हिरासत में लिया और उनसे पूछताछ की गई तो पता चला कि इन्हीं बदमाशों ने 12 फरवरी को एटीएम काटने का प्रयास किया था। आरोपियों की पहचान जलालपुर बुलंदशहर के रहने वाले नरेश पुत्र ताराचंद, रफीक नगर हापुड़ के रहने वाले वसीम और पृथ्वीपुर शाहजहां पुर के रहने वाले रंजीत के रूप में हुई है।

 पुलिस की पूछताछ में इन बदमाशों ने एक दर्जन से अधिक वारदातों का खुलासा किया है। इनमें ज्यादातर वारदात वाहन चोरी, शस्त्र अधिनियम के तहत कविनगर थाने में ही दर्ज हैं। पकड़े गए आरोपियों ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि वह अपने महंगे शौक पूरे करने के लिए वाहन चोरी करते थे। लेकिन इन दिनों इस धंधे से उनकी जरूरतें पूरी नहीं हो पा रही थीं। इसलिए इन लोगों ने एटीएम लूटने की योजना बनाई थी। इसी योजना के तहत यह तीनों बदमाश 12 फरवरी की रात एटीएम काटने पहुंचे थे। 

आरोपियों ने बताया कि उन्होंने पहले यू ट्यूब पर एटीएम मशीन के बारे में समझने का प्रयास किया। इसमें इन्हें पता चला कि नगदी एटीएम के किस हिस्से में रहती है और उसे कैसे काट कर निकाला जा सकता है। पूरी प्रक्रिया सीखने के बाद इन बदमाशों ने गैस कटर और स्प्रे आदि की व्यवस्था की और एटीएम काटने निकल पड़े थे। हालांकि उनकी पहली वारदात ही पुलिस के सायरन की वजह से असफल हो गई थी। तीनों जोमेटो और स्वीगी के लिए डिलिवरी का काम करते हैं।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.