ग्रेटर नोएडा वेस्ट: शाहबेरी में अवैध फ्लैट बनाकर बेचने वाले तीन बिल्डरों की 22 करोड़ की संपत्ति जब्त

शाहबेरी में अवैध फ्लैट बनाकर बेचने वाले तीन बिल्डरों की 22 करोड़ की संपत्ति जब्त

Google Image | Shahberi

Greater Noida News : ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित शाहबेरी (Shahberi) में अवैध रूप से फ्लैट बनाकर बेचने वाले तीन बिल्डरों की 22 करोड़ की संपत्ति पुलिस ने जब्त की है। इन बिल्डरों के कुल 56 फ्लैट पुलिस ने जब्त किए हैं। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण (Greater Noida Authority) से बिना नक्शा पास कराए बिल्डरों ने अवैध रूप से फ्लैट बना दिए थे। लोगों को गुमराह करके उनको फ्लैट बेचे गए थे।

आपको बता दें कि शाहबेरी में बनी अवैध इमारतों में से दो इमारतें जुलाई 2018 में धराशाई हो गई थीं। मलबे में दबने से नौ लोगों की मौत हो गई थी। मौत के बाद मामले ने तूल पकड़ा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शाहबेरी में अवैध फ्लैट बनाने वाले बिल्डरों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए। अब पुलिस ने तीन बिल्डर रोहित, हरीश, विकास के मैसर्स सत्यम रियल बिल्डर्स प्राइवेट लिमिटेड के अंतर्गत बने 56 फ्लैट को जब्त किया है। जब्त की गई संपत्ति की कीमत 22 करोड़ है। यह फ्लैट शाहबेरी में खसरा संख्या 46 में बनाए गए थे।

करीब 3 वर्षों से संघर्ष कर रहे Shahberi में ठगी का शिकार हुए खरीददारों को न्याय मिलने की उम्मीद जगी है। केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश पर प्रवर्तन निदेशालय ईडी ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है। इस मामले को लेकर लगातार प्रधानमंत्री कार्यालय, गृह मंत्रालय, यूपी के मुख्यमंत्री कार्यालय और तमाम जिम्मेदार एजेंसियों को शिकायत भेज रहे सचिन राघव से अब ईडी ने संपर्क किया है। ईडी ने उनसे तमाम सूचनाएं और दस्तावेज लिए हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय को 8 बार रिमाइंडर भेजने के बाद इस मामले में ईडी की लखनऊ ब्रांच ने जांच पड़ताल शुरू की है।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.