कार्रवाई : ग्रेटर नोएडा में हिंडन डूब क्षेत्र के 5 माफियाओं पर एफआईआर, गैंगस्टर एक्ट भी लगेगा

ग्रेटर नोएडा में हिंडन डूब क्षेत्र के 5 माफियाओं पर एफआईआर, गैंगस्टर एक्ट भी लगेगा

Tricity Today | जिलाधिकारी सुहास एलवाई

ग्रेटर नोएडा वेस्ट बिसरख थानाक्षेत्र में हिंडन (हरनंदी) के डूब क्षेत्र में अवैध तरीके से कॉलोनी बसा रहे और नदी को प्रदूषित करने के मामले में सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने कई लोगों के खिलाफ अलग-अलग मुकदमे दर्ज कराए हैं। पुलिस ने मुकदमे दर्ज करके आरोपियों की धरपकड़ शुरू कर दी है। खास बात यह है कि जिला प्रशासन और पुलिस की सख्ती के बाद भी डूब क्षेत्र में लगातार निर्माण होने की शिकायत मिल रही हैं।

पुलिस के मुताबिक ओखला नई दिल्ली के रहने वाले सिंचाई विभाग के सींचपाल सुभाष चंद ने बिसरख के निवासी रिजवान के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। जिसमें बताया है कि सिंचाई विभाग ने हिंडन नदी पर शहर की सुरक्षा के लिए कुलेसरा बांध बनाया है। इस बांध से हिंडन नदी के मध्य का हिस्सा बाढ़ क्षेत्र की परिधि में आता है। क्षेत्र की भूमि का उपयोग कृषि कार्य के लिए होता है। गांव अलीवर्दीपुर की भूमि में पक्का निर्माण भी कराया जा रहा है। इस निर्माण को कई बार सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने रुकवाने का प्रयास किया है, लेकिन उसके बाद भी डूब क्षेत्र में लगातार निर्माण कार्य किया जा रहा है। 

सिंचाई विभाग के अफसरों का आरोप है कि रिजवान अलवरदीपुर गांव की भूमि में प्लॉटिंग, बाउंड्री वॉल और पक्का मकान का अवैध निर्माण किया है। इसके अलावा गांव जलपुरा और हैबतपुर की भूमि में भी अज्ञात प्रोपर्टी डीलरों ने प्लॉटिंग की है। इसके अलावा उन्होंने गांव बिसरख के रहने वाले लक्ष्मण, करण सिंह, जय राम और इंद्र के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कराया है। जिसमें बताया है कि 19 दिसंबर को ऐमनाबाद बांध का गश्त कर रहे थे। इस दौरान देखा गया कि चारों आरोपियों ने खसरा नंबर 285 में अवैध प्लाटिंग की है। प्लाटिंग कर रहे लोगों को मौके पर पहुंचकर समझाया गया, लेकिन वह नहीं माने।

सिंचाई विभाग के सींचपाल सुभाष चंद्र ने सेम, पवन, बिसरख के निवासी पंकज, राम हरीश और नबी हसन के खिलाफ भी बिसरख थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। जिसमें उन्होंने बताया कि ऐमनाबाद तटबंध के पास यह सभी रोड़ी बदरपुर की पिसाई करके कचरा और गंदा पानी हिंडन नदी में डालकर प्रदूषित कर रहे हैं। एनजीटी का साफ आदेश दिया है कि नदी में किसी प्रकार का प्रदूषण करना कानूनन अपराध है। इसके बाद भी यह लोग प्रदूषण फैलाने का काम कर रहे हैं।

इसके अलावा सींचपाल सुभाष चंद्र ने बताया कि हिंडन नदी के डूब क्षेत्र के गांव बिसरख की भूमि पर विक्कल नाम का व्यक्ति बदरपुर पिसाई और बदरपुर धुलाई का काम कर रहा है। इसकी सूचना मिलने पर सिंचाई विभाग के अफसर मौके पर पहुंचे तो आरोपी टीम से उलझ गया। जिस पर टीम ने उसके खिलाफ भी बिसरख थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। बिसरख थाना के प्रभारी मुनीष चौहान ने बताया कि डूब क्षेत्र में अवैध प्लाटिंग और प्रदूषण फैलाने के मामले में पांच अलग-अलग मुकदमे दर्ज किए गए हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी जल्द की जाएगी। किसी भी हाल में डूब क्षेत्र में अवैध गतिविधियां नहीं होने दी जाएंगी।

दूसरी ओर गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई का कहना है कि इन सारे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इन लोगों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने का आदेश दिया गया है। हिंडन और यमुना नदी के खादर क्षेत्र में अवैधानिक गतिविधियां नहीं चलने दी जाएंगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2019-2020 Tricity. All Rights Reserved.