सीईओ नरेंद्र भूषण ने निवासियों की शिकायत का लिया संज्ञान, दो संस्थानों पर लगा जुर्माना

ग्रेटर नोएडा वेस्ट: सीईओ नरेंद्र भूषण ने निवासियों की शिकायत का लिया संज्ञान, दो संस्थानों पर लगा जुर्माना

सीईओ नरेंद्र भूषण ने निवासियों की शिकायत का लिया संज्ञान, दो संस्थानों पर लगा जुर्माना

Tricity Today | CEO Narendra Bhushan

सीईओ नरेंद्र भूषण ने निवासियों की शिकायत का लिया संज्ञान, दो संस्थानों पर लगा जुर्माना
  • विक्ट्री सेंट्रल के बिल्डर के खिलाफ पेनाल्टी लगाने की चेतावनी दी
  • खुले स्थानों पर अनियोजित तरीके से कूड़ा फेंकने व गंदगी फैलाने पर 2 संस्थानों पर 1-1 लाख का जुर्माना लगाया
  • गलती दोबारा हुई, तो जुर्माने की रकम बढ़ा दी जाएगी
Greater Noida: ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण (Greater Noida Authority) के सीईओ नरेंद्र भूषण (CEO Narendra Bhushan) ने वेस्ट में स्थित साइट ऑफिस में बुधवार को जन सुनवाई की। इस दौरान उन्होंने विक्ट्री सेंट्रल के बिल्डर के खिलाफ पेनाल्टी लगाने की चेतावनी दी। जबकि अथॉरिटी ने खुले स्थानों पर अनियोजित तरीके से कूड़ा फेंकने व गंदगी फैलाने पर 2 संस्थानों पर सख्ती बरती है। इन दोनों पर 1-1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। साथ ही संस्थानों को नियमों के मुताबिक कार्य कराने का आदेश दिया गया है। अगर ये कंपनियां काम में लापरवाही करती पाई गईं, तो इनके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा।

बिल्डर पर लगेगा जुर्माना
ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लोगों की समस्याओं के निस्तारण के लिए सीईओ नरेंद्र भूषण आज जनसुनवाई कर रहे थे। इस दौरान विक्ट्री सेंट्रल के बिल्डर के खिलाफ निवासियों ने शिकायत की। इस पर संज्ञान लेते हुए सीईओ ने बिल्डर को चेतावनी दी है। इसमें एसटीपी में खामियों की बात सामने आई है। साथ ही परियोजना में एक ही लिफ्ट लगी होने की भी शिकायत सामने आई है। प्राधिकरण के सीईओ ने नियोजन विभाग से इसकी जांच कर रिपोर्ट मांगी है। अगर ये खामियां सही पाई गईं, तो बिल्डर के खिलाफ पेनाल्टी लगाया जाएगा।

दो संस्थानों पर 1-1 लाख  का जुर्माना
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने खुले स्थानों पर अनियोजित तरीके से कूड़ा फेंकने व गंदगी फैलाने पर 2 संस्थानों पर 1-1 लाख का जुर्माना लगाया है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण के आदेश पर प्राधिकरण के जनस्वास्थ्य विभाग की तरफ से अभियान चलाया जा रहा है। जिसमें कहीं पर खुले में कूड़ा मिलने पर जुर्माना लगाने की कार्यवाही की जा रही है। इसी क्रम में जनस्वास्थ्य विभाग ने सेक्टर ईकोटेक एक्सटेंशन-1 स्थित न्यू शमा लैबोरेट्रीज और लोस्ट फर्नीचर संस्थान को खुले में कूड़ा फेंकने का दोषी पाया। 

फिर गलती होने पर बढ़ेगा जुर्माना
इन दोनों संस्थानों पर एक-एक लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया है। स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ प्रबंधक सलिल यादव की तरफ से जारी नोटिस में दोनों संस्थानों को 1 सप्ताह में जुर्माने की रकम जमा करने का आदेश दिया गया है। साथ ही चेतावनी दी गई है कि अगर इस तरह की गलती दोबारा हुई, तो जुर्माने की रकम बढ़ा दी जाएगी। साथ ही विधिक कार्यवाही भी की जाएगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.