बकरीद की छुट्टी और तनख्वाह मांगने पर मालकिन ने की थी घरेलू सहायिका की हत्या

Greater Noida West Breaking: बकरीद की छुट्टी और तनख्वाह मांगने पर मालकिन ने की थी घरेलू सहायिका की हत्या

बकरीद की छुट्टी और तनख्वाह मांगने पर मालकिन ने की थी घरेलू सहायिका की हत्या

Google Image | प्रतीकात्मक तस्वीर

बकरीद की छुट्टी और तनख्वाह मांगने पर मालकिन ने की थी घरेलू सहायिका की हत्या
  • परिजनों ने बिसरख पुलिस पर लगाया जांच में लापरवाही का आरोप
  • मामले में फ्लैट मालकिन अरुणिमा शर्मा के खिलाफ हत्या की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है
Greater Noida: ग्रेनो वेस्ट की चेरी काउंटी सोसाइटी में 20 जुलाई को 14वीं मंज़िल से गिरकर घरेलू सहायिका की मौत हुई थी। इस मामले में मृतका के पिता ने फ्लैट मालिकन के खिलाफ बकरीद की छुट्टी और तनख्वाह मांगने से नाराज़ होने पर बेटी की हत्या करने का मुकदमा दर्ज कराया है। पिता का आरोप है कि उनकी बेटी नाबालिग थी इसके बावजूद पुलिस ने एफआईआर में उसकी उम्र 18 वर्ष लिखी है। डीसीपी हरीश चंदर ने मामले की जांच कर दोषी पर कार्यवाई किये जाने की बात ट्राईसिटी टुडे से कही है।

ग्रेनो वेस्ट में कोतवाली बिसरख क्षेत्र स्थित चेरी काउंटी सोसाइटी के फ्लैट नंबर C 2- 1401 में अरुणिमा शर्मा रहती हैं। उनके घर में घरेलू सहायिका का काम करने वाली आशिफ़ा खातून के पिता अबुल हसन ने बताया उनकी बेटी करीब 1 महीना 10 दिन से अरुणिमा के घर पर काम कर रही थी। इस दौरान 21 जुलाई को बकरीद का त्यौहार होने के चलते उनकी बेटी ने 20 जुलाई को बकरीद की छुट्टी और तनख्वाह का पैसा मांगा था जिस पर फ्लैट मालकिन इतना नाराज हो गई कि उसने आशिफ़ा की जमकर पिटाई कर दी। पिता का आरोप है की पिटाई के दौरान उनकी बेटी की मौत हो गई और घटना को छुपाने के लिए अरुणिमा ने उसे 14वीं मंजिल स्थित अपने फ्लैट की बालकनी से फेंक कर घटना को आत्महत्या का रूप देने का प्रयास किया। 


FIR में नाबालिग की उम्र गलत लिखने का आरोप 
मृतका आशिफ़ा खातून के पिता ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी की वास्तविक उम्र 14 वर्ष है जबकि बिसरख पुलिस ने एफआईआर में उसकी उम्र जान बूझकर 18 वर्ष लिख दी है। उन्होंने बताया कि उन्होंने एफआईआर खुद नहीं लिखी बल्कि पुलिस ने एफआईआर लिखकर उस पर उसके हस्ताक्षर करवा लिए थे। पीड़ित को अब तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी पुलिस ने नहीं दी है। अबुल हसन ने बताया कि अरुणिमा के फ्लैट में पहले उनकी बड़ी बेटी घरेलू सहायिका का कार्य करती थी। उसके गांव जाने पर अरुणिमा उनके घर आई और काफी मान मनव्वल के बाद वह  उसकी छोटी बेटी को अपने साथ ले गयी।

परिजनों की शिकायत पर चाइल्ड हेल्पलाइन ने शुरू की जांच
मृतका के परिजनों ने बिसरख पुलिस पर आरोप लगाते हुए बताया कि उनकी बेटी की मौत के मामले की जांच में अब तक कोई प्रगति नहीं हुई है। उन्होंने मामले की शिकायत चाइल्ड हेल्पलाइन पर की जिस पर चाइल्ड हेल्प लाइन के अधिकारियों ने बिसरख पुलिस से संपर्क कर मामले की पूरी जानकारी कर कार्यवाई किये जाने की बात कही है। हेल्पलाइन के अधिकारी अपने स्तर से भी मामले की जांच कर रहे हैं।

जांच के बाद दोषियों पर होगी कार्यवाई
डीसीपी सेंट्रल नोएडा हरीश चंदर ने बताया कि मामले में फ्लैट मालिकन अरुणिमा शर्मा के खिलाफ हत्या की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। यदि पीड़ित पक्ष साक्ष्य देगा तो जांच के दौरान मृतका की सही उम्र जांच रिपोर्ट में लिखी जाएगी। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.