गौर बिल्डर ने निवासियों को पिटवाने के लिए बुलाए बाउंसर, पुलिस ने हिरासत में लिया

ग्रेटर नोएडा वेस्ट : गौर बिल्डर ने निवासियों को पिटवाने के लिए बुलाए बाउंसर, पुलिस ने हिरासत में लिया

गौर बिल्डर ने निवासियों को पिटवाने के लिए बुलाए बाउंसर, पुलिस ने हिरासत में लिया

Tricity Today | गौर बिल्डर ने निवासियों को पिटवाने के लिए बुलाए बाउंसर

गौर बिल्डर ने निवासियों को पिटवाने के लिए बुलाए बाउंसर, पुलिस ने हिरासत में लिया ग्रेटर नोएडा वेस्ट में रहने वाले लाखों निवासी इस समय बिल्डर की मनमानी से काफी परेशान हैं। नोएडा एक्सटेंशन में स्थित अधिकतर सोसाइटी में मेंटेनेंस को लेकर विवाद हो रहा है। बीती रात को गौर सिटी 10 एवेन्यू के निवासी मेंटेनेंस शुल्क को लेकर सोसाइटी के निवासियों से बातचीत कर रहे थे। निवासियों और मेंटेनेंस डिपार्टमेंट के बीच मेंटेनेंस शुल्क को लेकर मीटिंग हो रही थी। तभी बिल्डर की तरह से निवासियों को धमकाने और पिटवाने के लिए बाउंसर बुला लिए थे। जिसके बाद सूचना मिलने पर पुलिस ने सोसाइटी में आकर मामला शांत करवाया और बाउंसरों को हिरासत में ले लिया।

मेंटेनेंस नहीं शुल्क ले रहा है बिल्डर
सोसाइटी के निवासी सौरभ गुप्ता ने बताया कि उनकी सोसाइटी में बिल्डर ने मेंटेनेंस शुल्क बढ़ा दिया है, लेकिन मेंटेनेंस में बिल्कुल भी सुधार नहीं किया गया है। सोसाइटी में इस समय अनेक प्रकार की समस्या है। काफी बार इसकी शिकायत मेंटेनेंस डिपार्टमेंट से की गई। लेकिन बिल्डर और मेंटेनेंस डिपार्टमेंट को निवासियों की शिकायत का कोई असर नहीं हो रहा है।

मेंटेनेंस डिपार्टमेंट ऑफिस में बात करने पहुंचे तो गौर बिल्डर ने बुलाई पुलिस
सौरभ गुप्ता ने बताया कि बीती रात को सोसाइटी के निवासी मेंटेनेंस डिपार्टमेंट ऑफिस में गए और उन्होंने मेंटेनेंस शुल्क को ना बढ़ाने की मांग करते हुए अधिकारियों से बातचीत की। उन्होंने बताया कि बातचीत करते समय ही बिल्डर ने बाउंसरों को बुला लिया। बाउंसर उनके साथ धक्कामुक्की और मारपीट करना का प्रयास कर रहे थे। लेकिन सभी निवासी तभी मेंटेनेंस डिपार्टमेंट ऑफिस से निकलकर सड़क पर आ गए और बिल्डर के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे। 

पुलिस ने गौरत बिल्डर के बाउंसरों को हिरासत में लिया
विवाद को बढ़ता देख काफी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंची और विवाद को शांत करने लगी। लेकिन गौर बिल्डर की तरफ से बाउंसरों को बुलाने से सोसाइटी के निवासियों में रोष व्याप्त हो गया। जिसके बाद पुलिस ने सोसाइटी के निवासियों के साथ बदतमीजी और मारपीट की कोशिश करने बाउंसरों को हिरासत में लेकर थाने ले आई। सोसाइटी के निवासियों का कहना है कि वह हर साल लाखों रुपए अपनी सुरक्षा के लिए गौर बिल्डर को देते हैं। उसके बावजूद भी बिल्डर उनको पिटवा ने के लिए बाउंसर बुलाया है। इससे ज्यादा और शर्म की बात क्या हो सकती है।
 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.