इको विलेज के सैकड़ों निवासियों ने किया जोरदार प्रदर्शन, बिल्डर ने बुलाई पुलिस, सुपरटेक मुर्दाबाद के लगे नारे

ग्रेटर नोएडा वेस्ट : इको विलेज के सैकड़ों निवासियों ने किया जोरदार प्रदर्शन, बिल्डर ने बुलाई पुलिस, सुपरटेक मुर्दाबाद के लगे नारे

इको विलेज के सैकड़ों निवासियों ने किया जोरदार प्रदर्शन, बिल्डर ने बुलाई पुलिस, सुपरटेक मुर्दाबाद के लगे नारे

Tricity Today | इको विलेज के सैकड़ों निवासियों ने किया जोरदार प्रदर्शन

इको विलेज के सैकड़ों निवासियों ने किया जोरदार प्रदर्शन, बिल्डर ने बुलाई पुलिस, सुपरटेक मुर्दाबाद के लगे नारे Greater Noida West : सुपरटेक बिल्डर के खिलाफ आज दूसरे रविवार को सुपरटेक इकोविलेज-1, इकोविलेज- 2 और इकोविलेज- 3 निवासियों ने रजिस्ट्री की मांग को लेकर शांतिपूर्ण विरोध किया है। इस दौरान सैकड़ों निवासी एकजुट होने अपने घरों से निकलकर बिल्डर के खिलाफ और रजिस्ट्री की मांग को लेकर शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन किया है।

लोगों ने लगाए सुपरटेक मुर्दाबाद के नारे
तीनों सोसायटी के निवासियों ने सुपरटेक बिल्डर के खिलाफ सोसाइटी के भीतर बैनर लगाए है। तीनों सोसायटी में चारों तरफ से आवाज आ रही है कि "जब तक फ्लैटों की रजिस्ट्री नहीं होगी तब तक मेंटेनेंस शुल्क को लेना बंद किया जाए" निवासियों ने भारी संख्या में एकत्रित होकर प्रदर्शन किया है। आज दूसरे रविवार को जोरदार प्रदर्शन हुआ है। इस दौरान सोसाइटी में सुपरटेक मुर्दाबाद के नारे भी लगे है।



रजिस्ट्री नहीं होने से परेशान सैकड़ों परिवार
सुपरटेक इकोविलेज-2 के निवासी मिहिर गौतम का कहना है कि रजिस्ट्री नहीं होने की वजह से उन्हें बैंकों को होम लोन पर ज़्यादा ब्याज देना पड़ रहा है। वो मुश्किल स्थिति में भी घर नहीं बेच सकते हैं। उन्हें कोई बुनियादी सुविधाएं नहीं मिल रही है। निवासियों ने कहा कि रजिस्ट्री शुल्क हर साल बढ़ रहा है। जिस वजह से उनपर बेझ बढ़ता जा रहा है। सभी रेज़ीडेंट्स ने साफ कर दिया है कि इस बार बिल्डर के झूठे झांसे में नहीं आना है। 

सुपरटेक मैनेजमेंट के अधिकारी पहुंचे
सुपरटेक मैनेजमेंट की तरफ से मीटिंग में नीतीश अरोड़ा, कंसल और तमाम अधिकारी पहुंचे थे। हर बार की तरह उन्होंने फिर से सारी ज़िम्मेदारी अथॉरिटी पर डालने की कोशिश की, जिसे रेज़ीडेंट्स नेख़ारिज कर दिया। सुपरटेक मैनेजमेंट ने मेंटेनेंस नहीं लेने के मुद्दे पर टालमटोल किया और अंत मेंसोमवार शाम तक अपना फ़ैसला बताने का भरोसा दिया है। 



सुपरटेक मैनेजमेंट ने बुलाई पुलिस
रेज़ीडेंट्स का साफ कहना है कि जब तक रजिस्ट्री नहीं हो जाती तब तक आंदोलन जारी रहेगा। वहीं उन्होंने मेनेजमेंट को कहा है कि प्रीपेड बिजली मीटर से मेंटेनेंस काटना बंद किया जाए। ये पहली बार हुआ कि मिटिंग के दौरान सुपरटेक मैनेजमेंट ने पुलिस को बुलाया। 

निवासियों ने कहा- झूठा वादा सुनने नहीं बल्कि मेंटेनेंस शुल्क को माफ करवाने आए
इको विलेज-1 में विरोध प्रदर्शन करने के बाद बड़ी संख्या में रेज़ीडेंट्स मीटिंग के लिए पहुंचे। विजय सिंह, दिलीप, मनोज, शैलेंद्र और अवधेश बिहारी के नेतृत्व में पहुंचे इको विलेज वन के रेज़ीडेंट्स का कहना है कि हम बहुत परेशान हैं और सुपरटेक को मेंटेनेंस शल्क पूरा माफ करना होगा। इको विलेज-2 से राजकुमार, अनुपम, संजीव, आशीष, पंकज के साथ तमाम रेज़ीडोंट्स ने कहा कि वो झूठा वादा सुनने नहीं बल्कि मेंटेनेंस शुल्क को पूरी तरह माफ करवाने आए हैं।



प्रशासन से भी नहीं मिली कोई मदद
इको विलेज-3 से मीटिंग में मृत्युंजय, संदीप, मनीष, अजय और तमाम रेज़ीडेंट्स पहुंचे है। निवासियों का कहना है कि आखिर कब तक सहेंगे। हमारी बात ना प्रशासन सुनता है और ना बिल्डर। हमने घर का पूरा पैसा दिया लेकिन फिर भी हमें ठगा जा रहा है। रेज़ीडेंट्स ने कहा है कि वो डरने वाले नहीं हैं और हक़ की लड़ाई लगातार जारी रखेंगे।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.