ग्रेटर नोएडा वेस्ट के निवासियों की खास पहल: हरिद्वार से खुद रिफिल कराएंगे ऑक्सीजन, 23 सिलेंडर लेकर पहली गाड़ी हुई रवाना

हरिद्वार से खुद रिफिल कराएंगे ऑक्सीजन, 23 सिलेंडर लेकर पहली गाड़ी हुई रवाना

Tricity Today | सिलेंडर लादता व्यक्ति

गौतमबुद्ध नगर में ऑक्सीजन की किल्लत से हाहाकार मचा है। अस्पतालों तक आपूर्ति सरकारी प्रयासों से फिर भी हो जा रही है, लेकिन आरडब्लूए, एओए, होम क्वारंटीन और सोसाइटी में बने आइसोलेशन वार्ड में ऑक्सीजन मिलना दूभर हो रहा है। खास तौर पर ग्रेटर नोएडा वेस्ट में इसकी ज्यादा कमी है। इससे निपटने के लिए ग्रेनो वेस्ट के निवासियों ने अब सीधे कंपनी से ऑक्सीजन मंगाने का फैसला किया है। इसके लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण से अनुमति ली गई है। मंगलवार की रात 23 सिलेंडर को रिफिल कराने के लिए हरिद्वार भेजा गया है। दरअसल कोरोना संक्रमितों की भारी संख्या की वजह से गौतमबुद्ध नगर का बुनियादी स्वास्थ्य ढांचा चरमरा गया है।

सोसाइटी में हो रही किल्लत
ऑक्सीजन की कमी से हर कोई जूझ रहा है। शहर की सभी हाईराइज और पॉश सोसाइटी में कोरोना संक्रमित भारी संख्या में आइसोलेटेड हैं। इस महामारी से पार पाने के लिए सोसायटियों ने खुद आइसोलेशन वार्ड बनाया है। यहां कम गंभीर सोसाइटी के मरीजों का इलाज किया जा रहा है। इसके अलावा ज्यादातर लोग घर में ही अपना इलाज करा रहे हैं। लेकिन इन सभी को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है। इसके लिए परिजनों को कंपनी के बाहर लाइन लगाना पड़ता है। लेकिन उन्हें गैस नहीं मिल पाती। ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित कई बड़ी सोसाइटी ने भी आइसोलेशन वार्ड बनाया है। यहां संक्रमितों का इलाज चल रहा है। लेकिन इन्हें ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं हो पा रही। इससे परेशान होकर आइसोलेशन वार्ड चलाने वाले और सोसाइटी के निवासियों ने मिलकर बड़ी पहल शुरू की। अबे लोग खुद ऑक्सीजन के सिलेंडर रिफिल कराएंगे। 

लोगों ने दिखाई रुचि
नेफोमा की महासचिव रश्मि पांडे ने बताया कि इससे संबंधित एक मैसेज सभी सोसाइटी को भेजा गया। उनसे कहा गया कि अगर ऑक्सीजन सिलेंडर भरवाना है, तो संपर्क करें। इसके बाद लोग जुड़ते चले गए। गौर सिटी के फर्स्ट एवेन्यू, 12 व 16 एवेन्यू, गौर सौंदर्यम और एग्जॉटिका जैसी सोसाइटी से लोगों ने संपर्क किया। इन सभी से ऑक्सीजन सिलेंडर इकट्ठे किए गए। अब तक इन सभी सोसाइटी के लोगों ने 23 सिलेंडर इकट्ठा किया है। एक गाड़ी हायर की गई है। यह गाड़ी रिक्त ऑक्सीजन सिलेंडर को लेकर भेल के हरिद्वार प्लांट जाएगी। वहां से भरे सिलेंडर वापस लाएगी। 

पहली गाड़ी रवाना
महासचिव ने बताया कि हरिद्वार प्लांट में बातचीत हो गई है। उन्होंने गैस देने के लिए हामी भरी है। एहतियात बरतते हुए इन लोगों ने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण से भी इसके लिए एनओसी ले ली है। प्राधिकरण ने इन्हें मंजूरी दे दी है। सभी सोसाइटी के निवासियों ने सिलेंडर भरवाने में आने वाली लागत का अपना हिस्सा भी दे दिया है। गाड़ी को देर रात हरिद्वार के लिए रवाना कर दिया गया। इस पहल को मूर्त रूप देने वाले लोगों में अनिल पुंडीर, अनूप सोनी, रवि गुलाटी, रोहित, चक्रेश और आशुतोष आदि हैं। इन्होंने ऑक्सीजन गैस उपलब्ध कराने के लिए आपस में चर्चा की। फिर इस योजना पर काम शुरू किया। 

आगे भी जारी रहेगा अभियान
इस ग्रुप के सदस्यों का कहना है कि आगे भी यह पहल जारी रहेगी। निवासियों की जरूरतों के हिसाब से गैस सिलेंडर बढ़ाया जाएगा। फ्लैट खरीदारों की संस्था नेफोमा की महासचिव रश्मि पांडे ने इसे सकारात्मक और महत्वपूर्ण कदम बताया। उन्होंने कहा कि सोसाइटी में बने आइसोलेशन वार्ड और घर में इलाज कर रहे लोगों को ऑक्सीजन की भारी कमी हो रही है। हमने इससे जुड़ा प्रस्ताव ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अफसरों को दिया था। अफसरों से कहा था कि अगर हमें अनुमति मिलती है, तो हम सीधे हरिद्वार के गैस प्लांट से ऑक्सीजन मंगा सकते हैं। अधिकारियों ने इसे संजीदगी से लिया और हमें अनुमति दे दी है। हमने 23 खाली सिलेंडर से लदी एक गाड़ी हरिद्वार भेज दी है। अब यह प्रक्रिया निरंतर जारी रहेगी। हम लोगों से उनकी जरूरत के मुताबिक रिक्त सिलेंडर जमा करेंगे और एक साथ रिफिल कराने भेज देंगे।

लोगों बढ़ा रहे है मदद का हाथ
महागुन माईवुड में रहने वाले अनिल वर्मा ने डाटा इकट्ठा किया और संयुक्त रूप से पैसे इकट्ठे करके बीएचईएल के नाम पैसे ट्रांसफर कर दिए। जिसके बाद कार्यवाही के बाद लेटर जारी किया गया। प्रमुख सोसाइटी महागन माईवुड जी सी 1, 2, 16, ग़ौर सौंदर्यम शामिल है। नेफोमा के अध्यक्ष अन्नू खान ने अथॉरिटी द्वारा इस पहल का स्वागत किया है और निवासियों से अनुरोध किया है कि वह आक्सीजन की सप्लाई के लिए नेफोमा टीम से सम्पर्क करे।

sp;

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.