मेफेयर रेसीडेंसी के निवासियों ने बिल्डर-प्रमोटर और प्राधिकरण का पुतला जलाया, कहा-‘मांगें पूरी होने तक हौसला नहीं हारेंगे’

ग्रेटर नोएडा वेस्ट: मेफेयर रेसीडेंसी के निवासियों ने बिल्डर-प्रमोटर और प्राधिकरण का पुतला जलाया, कहा-‘मांगें पूरी होने तक हौसला नहीं हारेंगे’

मेफेयर रेसीडेंसी के निवासियों ने बिल्डर-प्रमोटर और प्राधिकरण का पुतला जलाया, कहा-‘मांगें पूरी होने तक हौसला नहीं हारेंगे’

Tricity Today | प्रदर्शन करते निवासी

मेफेयर रेसीडेंसी के निवासियों ने बिल्डर-प्रमोटर और प्राधिकरण का पुतला जलाया, कहा-‘मांगें पूरी होने तक हौसला नहीं हारेंगे’
  • मेफेयर रेसीडेंसी टेकजोन-4 के निवासियों ने लगातार पांचवें हफ्ते जोरदार प्रदर्शन किया
  • हाथों में बैनर और पोस्टर लिए महिलाएं ने बुनियादी सुविधाओं के लिए आवाज बुलंद की
  • बिल्डर सुविधाएं देने के बजाय जबरन नए-नए शुल्क थोप रहा है
Greater Noida West News: ग्रेटर नोएडा वेस्ट में बुनियादी सुविधाओं की कमी से जूझ रहे बहुमंजिला इमारतों के निवासी चिलचिलाती धूप के बावजूद आज प्रदर्शन करते रहे। रविवार सुबह मेफेयर रेसीडेंसी (Mayfair Residency) टेकजोन-4 के निवासियों ने लगातार पांचवें हफ्ते जोरदार प्रदर्शन किया। आज सुपर सिटी डेवलपर्स (Super City Developers), मिगलानी ग्रुप (Miglani Group), यूपी सरकार (UP Governmen) और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण (Greater Noida Authority) का पुतला जलाया। उन्होंने मोर्चा निकालकर अपना आक्रोश प्रकट किया। हाथों में बैनर और पोस्टर लिए महिलाएं ने बुनियादी सुविधाओं के लिए आवाज बुलंद की। उनका कहना है कि 71 परिवारों के घरों में बिजली का अस्थाई कनेक्शन क्यों है।

कोई सुनवाई नहीं कर रहा
बिल्डर और सरकार ने अपने-अपने हिस्से के पैसे ले लिए। लेकिन सुविधाओं के नाम पर कोई सुनवाई नहीं कर रहा। मेफेयर रेसीडेंसी के निवासी प्रीत ने बताया कि यहां बिजली, पानी और सुरक्षा जैसी बुनियादी जरूरतों का अभाव है। बिल्डर सुविधाएं देने के बजाय जबरन नए-नए शुल्क थोप रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पास किए गए कानून ‘एग्रीमेंट टू सबलीज’ के जाल में मेफेयर के निवासी बुरी तरह फंस गए हैं। बिल्डर ने घर देने के नाम पर पूरे जीवन की गाढ़ी कमाई लूटी ली। लोगों ने अपना सबकुछ सरकार के राजस्व में दे दिया। लेकिन अब बिल्डर और शासन-प्रशासन के सताए हैं। 


5 हफ्तों से कर रहे प्रदर्शन
बताते चलें कि इन सुविधाओं की मांग के लिए मेफेयर रेजिडेंसी टेकजोन-4 के निवासी लगातार 5 हफ्तों से प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी कड़ी में आज सुपर सिटी डेवलपर्स (Super City Developers), मिगलानी ग्रुप (Miglani Group) और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण (Greater Noida Authority) ने अपना रोष जताया। सोसाइटी के निवासी प्रीत ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि पिछले 5 हफ्ते से हर रविवार को बिल्डर और डेवलपर के खिलाफ प्रदर्शन किया जा रहा है। लेकिन अब तक उनका कोई प्रतिनिधि मिलने नहीं आया। सोसाइटी में बुनियादी सुविधाओं का अभाव है। हमारी मांग है कि बिजली, पानी, सुरक्षा और कूड़े के निस्तारण जैसी सुविधाओं का त्वरित समाधान निकाला जाए। 

जारी रहेगा प्रदर्शन
प्रीत ने बताया कि बिल्डर ने मेंटेनेंस रूम के गेट पर बाहर से ताला लगा दिया है। पिछले दरवाजे से उसके कर्मचारी आ-जा रहे हैं। लेकिन हमारी मांगों को सुनने कोई नहीं आता। इसलिए सोसाइटी के निवासियों ने आज उसके खिलाफ मोर्चा निकाला। बिल्डर और सुपरसिटी डेवलपर्स का पुतला दहन किया। निवासियों का कहना है कि प्रदर्शन तब तक जारी रहेगा, जब तक बुनियादी सुविधाएं विकसित नहीं हो जातीं। प्रीत ने बताया कि ग्रेटर नोएडा वेस्ट सोसाइटीज में सुविधाओं का अभाव है। लेकिन मेफेयर रेजिडेंसी का सबसे बुरा है। यहां बिजली, पानी, सुरक्षा और कूड़ा निस्तारण जैसी कोई भी बुनियादी सुविधा नहीं है। 

मुश्किलों का सामना कर रहे
इस संबंध में निवासियों ने बिसरख की एसएचओ अनीता चौहान से भी मुलाकात की थी। अपनी समस्याएं बताई थीं। उन्होंने कार्रवाई का आश्वासन दिया था। लेकिन अब तक बिल्डर की तरफ से कोई कवायद शुरू नहीं हुई है। सोसाइटी के लोग बेहद चुनौतीपूर्ण हालात में रह रहे हैं। उन्होंने बताया, सोसाइटी में बिजली की समस्या बेहद जटिल है। एनपीसीएल के अफसर-कर्मचारी भी सोसाइटी का दौरा कर चुके हैं। लेकिन सब कुछ बिल्डर पर आकर रुक जाता है। आए दिन लिफ्ट रुकने की घटनाएं सामने आती हैं। पावर बैकअप के नाम पर कोई सहूलियत नहीं है। इसीलिए आज सुपर सिटी डेवलपर्स (Super City Developers), मिगलानी ग्रुप (Miglani Group), यूपी सरकार (UP Governmen) और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण (Greater Noida Authority) का पुतला जलाया।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.