सड़क हादसे में मारे गए तेंदुए की दावेदारी में दो जिले, ग्रेटर नोएडा वेस्ट में हाई अलर्ट बरकरार

दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे : सड़क हादसे में मारे गए तेंदुए की दावेदारी में दो जिले, ग्रेटर नोएडा वेस्ट में हाई अलर्ट बरकरार

सड़क हादसे में मारे गए तेंदुए की दावेदारी में दो जिले, ग्रेटर नोएडा वेस्ट में हाई अलर्ट बरकरार

Google photo | मृतक तेंदुआ

Greater Noida West : दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे (DME) पर कलछेना गांव के पास एक तेज रफ्तार वाहन की चपेट में आने से एक तेंदुए की मौत हो गई। विभागीय सूत्र बताते हैं कि पिछले कुछ दिनों से मेरठ और गौतमबुद्ध नगर के विभिन्न क्षेत्रों में तेंदुआ होने के कारण लगातार वन विभाग और अन्य टीमें उसकी तलाश में जुटी हुई थी। मंगलवार को जैसे ही भोजपुर में तेंदुए की हादसे में मौत की सूचना मिली दोनों ही विभागों के अधिकारी यह मान कर बैठ गए कि उनका तेंदुआ मारा गया। लेकिन अभी भी ग्रेटर नोएडा वेस्ट और मेरठ के लोगों में डर का माहौल है।

तेंदुए को लेकर जांच जारी
पुलिस ने बुधवार को इस संबंध में जानकारी दी। यह घटना मंगलवार रात की है। तेंदुआ सड़क पार कर रहा था, तभी तेज रफ्तार वाहन ने उसे टक्कर मार दी। पुलिस उपायुक्त ग्रामीण रवि कुमार का कहना है कि उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और वन विभाग की टीम को इसकी सूचना दी। प्रशासनिक अधिकारियों को भी जानकारी मिली। भोजपुर थाना भोजपुर थाना क्षेत्र में अज्ञात वाहन और उसके मालिक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। घटना के समय मौके से गुजरने वाले वाहनों के बारे में जानने के लिए पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। वहीं, मृत तेंदुआ को लेकर दो जिलों की ओर से दावेदारी की जा रही है। पिछले दिनों मेरठ और नोएडा की सोसायटी में तेंदुआ देखे जाने का मामला सामने आया था। दोनों जिला प्रशासन इस तेंदुआ को अपने यहां देखा गया तेंदुआ बता रहे हैं।

जंगली जानवर की मूवमेंट नहीं
इस संबंध में डीएफओ मनीष सिंह का कहना है मेरठ या गौतमबुद्ध नगर में जिस तेंदुए के बारे में पता लगा था उसकी कोई निशानी की जानकारी नहीं है। सोसायटी के निवासियों को कॉमन और पार्क एरिया में नहीं जाने के की एडवाइजरी भी जारी की गई है। दो स्प्ताह से ज्यादा समय से लोग डरे सहमे हुए हैं। जिला वन अधिकारी पीके श्रीवास्तव का कहना है कि अजनारा ली गार्डन में चल रहे सर्च अभियान में तेंदुआ या किसी जंगली जानवर की मूवमेंट नहीं मिली है। DME पर हादसे में मृत तेंदुआ कहां से आया इस बारे में अभी कुछ कहा नहीं जा सकता है। मृत तेंदुए की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट अभी नहीं आई है। ग्रेनो वेस्ट में तेंदुए की तलाश में लगाए गए कैमरों की फुटेज हर रोज दिन में दो बार जांच की जाती है।

तेंदुए ने पश्चिमी यूपी की ओर किया रुख
अधिकारियों के मुताबिक, ग्रेटर नोएडा वेस्ट में बीते 3 जनवरी को तेंदुआ देखा गया था। जिसके बाद ग्रेटर नोएडा वेस्ट की हाउसिंग सोसायटी में रहने वाले लोगों के बीच हड़कंप मच गया था। करीब 200 घंटे तक तेंदुए की तलाश की गई, लेकिन नहीं मिलने के बाद तलाश बंद कर दी गई थी। वन विभाग ने पहले ही आशंका जाहिर की थी कि तेंदुआ ग्रेटर नोएडा वेस्ट से भागकर पश्चिमी यूपी के इलाकों में रुख कर गया।

Copyright © 2022 - 2023 Tricity. All Rights Reserved.