छात्रा के अपहरण की झूठी सूचना देकर हाईवे जाम कर हंगामा करने वाले 18 नामजद समेत 150 आरोपियों के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा

BREAKING : छात्रा के अपहरण की झूठी सूचना देकर हाईवे जाम कर हंगामा करने वाले 18 नामजद समेत 150 आरोपियों के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा

छात्रा के अपहरण की झूठी सूचना देकर हाईवे जाम कर हंगामा करने वाले 18 नामजद समेत 150 आरोपियों के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा

Tricity Today | हाईवे जाम करने वाले लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

छात्रा के अपहरण की झूठी सूचना देकर हाईवे जाम कर हंगामा करने वाले 18 नामजद समेत 150 आरोपियों के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा
  • गोंडा से प्रेमी के साथ लौटी छात्रा
  • परिजनों के पास रहने से किया इंकार
     
Greater Noida: कोतवाली बादलपुर क्षेत्र के सादोपुर गांव में रहने वाली छात्रा स्वाति बुधवार को अपने घर से प्रेमी अनिमेष तिवारी के साथ जनपद गोंडा स्थित उसके घर चली गई थी। इस मामले में गुरुवार को उसके परिजनों ने पुलिस को उसके अपहरण की झूठी सूचना देकर NH-91 पर जाम लगा दिया था। जांच के दौरान पुलिस ने लड़की को उसके प्रेमी के साथ गोंडा से बरामद किया था। पुलिस शुक्रवार शाम को गोंडा से बरामद छात्रा को लेकर चली थी और शनिवार सुबह ग्रेटर नोएडा पहुंच कर उसे न्यायालय में पेश किया। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए  18 नामजद सहित करीब डेढ़ सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

कोतवाली बादलपुर प्रभारी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि सादोपुर की झाल की रहने वाली स्वाति (20 वर्ष) बुधवार 15 सितंबर को  प्रेमी अनिमेष तिवारी के साथ अपनी मर्ज़ी से जनपद गोंडा स्थित उसके घर चली गई थी। इसके बाद उसके परिजनों ने इस मामले में गुरुवार को छात्रा के अपहरण का नाटक करते हुए पुलिस को झूठी सूचना देते हुए एफआईआर दर्ज करवाई थी। इस दौरान  विरोध प्रदर्शन करते हुए परिजनों के साथ ग्रामीणों ने Nh-91 हाईवे पर जाम लगाकर काफी देर तक हंगामा करते हुए पूरा ट्रैफिक रोक दिया था जिससे स्थिति तनावपूर्ण हो गई थी।

कोतवाली प्रभारी ने बताया कि इस मामले में 18 नामजद सहित करीब 150 लोगों खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। थाना प्रभारी ने बताया कि शुक्रवार को पुलिस ने युवती को गोंडा जनपद से बरामद कर उसे गोंडा में कोर्ट में पेश किया था जहां से न्यायालय ने उसे पुलिस सुरक्षा के बीच गौतमबुद्ध नगर के लिए भेजा था। शनिवार सुबह छात्रा ग्रेटर नोएडा सकुशल पहुंच गई। कोतवाली बादलपुर पुलिस ने छात्रा का मेडिकल परीक्षण करवाकर उसे न्यायालय में पेश किया। उन्होंने बताया कि युवती के बयान के आधार पर कोर्ट जो आदेश देगा उसके अनुसार अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

छात्रा ने परिजनों के पास रहने से किया इनकार
पुलिस ने बताया कि युवती ने पूछताछ के दौरान अपने परिजनों पर आरोप लगाया है कि वह उसकी हत्या करवा सकते हैं। युवती का कहना है कि उसके नाम पर करोड़ों की संपत्ति है। उसके परिजन उसकी संपत्ति को हड़पना चाह रहे हैं। थाना प्रभारी ने बताया कि युवती के साथ उसका प्रेमी अनिमेष तिवारी भी गोंडा से ग्रेटर नोएडा आया है। वह अपनी इच्छा से युवती के साथ आया है।

डीसीपी नोएडा सेंट्रल जोन हरीश चंदर ने बताया कि पुलिस युवती के चाचा जो कि दिल्ली पुलिस में उपनिरीक्षक हैं, उनकी भूमिका की भी जांच कर रही है। उन्होने बताया कि बरामद युवती ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया है कि फेसबुक के जरिए 4 वर्ष पहले अनिमेष से उसकी दोस्ती हुई थी। बाद में दोनों में प्रेम संबंध हो गए। युवती ने आशंका व्यक्त की है कि झूठी शान व संपत्ति के लिए उसके परिजन उसकी हत्या कर सकते हैं। डीसीपी ने बताया कि युवती की सुरक्षा का पूरा इंतजाम किया जाएगा। अपहरण की झूठी सूचना देकर मुकदमा दर्ज कराने के मामले में दोषी पाए जाने पर छात्रा के परिजनों के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.