बादलपुर की निवासी आईएएस रानी नागर ने फिर दिया इस्तीफा, पिछली बार मायावती और कृष्णपाल गुर्जर समर्थन में उतरे थे

बड़ी खबर : बादलपुर की निवासी आईएएस रानी नागर ने फिर दिया इस्तीफा, पिछली बार मायावती और कृष्णपाल गुर्जर समर्थन में उतरे थे

बादलपुर की निवासी आईएएस रानी नागर ने फिर दिया इस्तीफा, पिछली बार मायावती और कृष्णपाल गुर्जर समर्थन में उतरे थे

Tricity Today | रानी नागर

बादलपुर की निवासी आईएएस रानी नागर ने फिर दिया इस्तीफा, पिछली बार मायावती और कृष्णपाल गुर्जर समर्थन में उतरे थे Gautam Buddh Nagar : हरियाणा की चर्चित आईएएस अफसर रानी नागर ने एक बार फिर इस्तीफा दे दिया है। इससे पहले रानी नागर ने वर्ष 2020 में भी इस्तीफा दिया था। रानी हरियाणा से 2014 बैच के आईएएस अफसर है। हालांकि, अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि उन्होंने दोबारा से इस्तीफा क्यों दिया है। उन्होंने अपनी इस्तीफे की कॉपी भारत के राष्ट्रपति के अलावा हरियाणा के मुख्य सचिव और केंद्रीय कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग को भी भेजी है। काफी समय से छुट्टी पर चल रही रानी ने दोबारा से इस्तीफा 7 मई 2022 को दिया है।

गौतमबुद्ध नगर की निवासी हैं रानी नागर
रानी नगर मूल रूप से गौतमबुद्ध नगर जिले के बादलपुर गांव की निवासी है। इस्तीफा देते हुए रानी नागर ने लिखा, "वह पूरे होश में आईएएस पद से इस्तीफा दे रही है। उनके ऊपर किसी भी व्यक्ति ने कोई भी दबाव नहीं बनाया है।" उन्होंने प्रशासनिक सेवा से अपील करते हुए कहा, "वह उसके इस्तीफे को तुरंत स्वीकार करें।"

4 मई 2020 को भी दिया था इस्तीफा
आपको बता दें कि इससे पहले 4 मई 2020 को गंभीर आरोप लगाते हुए रानी नागर ने अपने पद से इस्तीफा दिया था। हालांकि, उस समय गौतमबुद्ध नगर की जनता, उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती और केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर उसके समर्थन में आए थे। जिसके बाद हरियाणा सरकार ने उसका इस्तीफा लेने से इनकार कर दिया था। उस समय तमाम बड़े नेताओं ने रानी नागर का कैडर उत्तर प्रदेश में बदलने की भी मांग की थी।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.