बाइक बोट कंपनी का असिस्टेंट डायरेक्टर गिरफ्तार, सेना से रिटायर होने के बाद 300 लोगों को लगाया करोड़ों का चूना

ग्रेटर नोएडा : बाइक बोट कंपनी का असिस्टेंट डायरेक्टर गिरफ्तार, सेना से रिटायर होने के बाद 300 लोगों को लगाया करोड़ों का चूना

बाइक बोट कंपनी का असिस्टेंट डायरेक्टर गिरफ्तार, सेना से रिटायर होने के बाद 300 लोगों को लगाया करोड़ों का चूना

Tricity Today | Bike Boat Scam

बाइक बोट कंपनी का असिस्टेंट डायरेक्टर गिरफ्तार, सेना से रिटायर होने के बाद 300 लोगों को लगाया करोड़ों का चूना Greater Noida News : बाइक बोट घोटाले (Bike Boat Scam) में मेरठ एसटीएफ (Meerut STF) ने एक और आरोपी को गिरफ्तार किया है। मेरठ एसटीएफ ने 50 हजार रुपए के इनामी लोकेंद्र सिंह को गिरफ्तार किया है। लोकेंद्र सिंह को मथुरा स्थित गोवर्द्धन चौराहे से गिरफ्तार किया है। कुछ समय पहले ही लोकेंद्र सिंह के घर को ईओडब्ल्यू ने कुर्क किया था, जो बुलंदशहर में स्थित है।

105 मुकदमे दर्ज
लोकेंद्र सिंह बाइक बोट कंपनी में असिस्टेंट डायरेक्टर के पद पर कार्यरत था। लोकेंद्र सिंह पहले सेना में था, लेकिन रिटायर होने के बाद वो बाइक बोट में आ गया और लोगों के साथ ठगी करने लगा। लोकेंद्र सिंह के खिलाफ विभिन्न थानों में 105 मुकदमे दर्ज किए गए हैं। लोकेंद्र सिंह बाइक बोट घोटाले में अभी तक सैकड़ों लोगों के साथ करोड़ों की ठगी कर चुका है।

300 लोगों को लगाया करोड़ों रुपए का चूना
बाइक बोट मामले का खुलासा होने के बाद से ही लोकेंद्र सिंह फरार चल रहा था। जिसके बाद उस पर पुलिस ने 50 हजार रुपए का इनाम घोषित कर दिया था। एक सूचना के आधार पर एसटीएफ ने गुरुवार को मथुरा से लोकेंद्र सिंह को गिरफ्तार किया है। लोकेंद्र सिंह बुलंदशहर का रहने वाला है। जांच में पता चला है कि आरोपी लोकेंद्र सिंह ने सेना से रिटायर होने के बाद बुलंदशहर और हापुड़ की करीब 300 लोगों के साथ करोड़ों रुपए की ठगी की है।

यह थी बाइक बोट स्कीम
साल 2010 में संजय भाटी ने कंपनी की शुरुआत की थी और 2018 में यह बाइक बोट स्कीम लॉन्च की थी। स्कीम के तहत बाइक टैक्सी शुरू की गई। इसके तहत एक व्यक्ति से एक मुश्त 62,100 रुपए का निवेश कराया गया था। उसके एवज में एक साल तक प्रतिमाह 9,765 रुपये देने का वादा किया गया था। निवेश करने वालों का आरोप है कि उन्हें पैसे नहीं दिए गए। बाद में संचालक फरार हुआ तो लोगों ने मुकदमे दर्ज कराने शुरू किए थे। 

संजय भाटी समेत 24 आरोपी जेल में बंद
इस मामले में अब तक मुख्य आरोपी संजय भाटी और बीएन तिवारी समेत कुल 26 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था, जिसमें दो आरोपी मोंटी भसीन और दिनेश पांडेय को जमानत मिल चुकी है। अब कुल 24 आरोपी गौतमबुद्ध नगर जेल में बंद है। इस मामले में अभी मुख्य आरोपी संजय भाटी की पत्नी दीप्ती बहल समेत 4 आरोपी अभी फरार थे। जिसमें से लोकेंद्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। बाकी फरार हैं, पुलिस अब तक दीप्ती बहल, भूदेव और बिजेंद्र हुड्डा को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। बिजेंद्र हुड्डा इस समय भारत से बाहर है। इसके खिलाफ रेड कार्नर नोटिस जारी हो चुका है।

अन्य खबरे

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.