खुद को मुख्यमंत्री का नजदीकी बताकर अफसरों की नाक में दम कर रहे ठेकेदार, सीएम ऑफिस पहुंची शिकायत

Greater Noida Authority : खुद को मुख्यमंत्री का नजदीकी बताकर अफसरों की नाक में दम कर रहे ठेकेदार, सीएम ऑफिस पहुंची शिकायत

खुद को मुख्यमंत्री का नजदीकी बताकर अफसरों की नाक में दम कर रहे ठेकेदार, सीएम ऑफिस पहुंची शिकायत

Tricity Today | ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण | File Photo

खुद को मुख्यमंत्री का नजदीकी बताकर अफसरों की नाक में दम कर रहे ठेकेदार, सीएम ऑफिस पहुंची शिकायत Greater Noida : अपने आप को यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का बेहद करीबी बताकर शहर में वाटर सप्लाई का मेंटिनेंस ठेकेदार ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के अधिकारियों पर तरह-तरह का दवाब बना रहा है। पंप आपरेटरों का ईएसआई और पीएफ का पैसा जमा नहीं करता है। इसके अलावा वाटर सप्लाई में लापरवाही बरतने और टूटी हुई पाइप लाइन को समय रहते ठीक नहीं करने के आरोप हैं। जल विभाग के सीनियर मैनेजर ने सर्वेश बिल्डर पर 6 लाख 40 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया था। अब पंप आपरेटरों ने ईएसआई और पीएफ का पैसा जमा नहीं करने की शिकायत ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी की सीईओ रितु माहेश्वरी से की है।

पंप ऑपरेटरों ने सीएम पोर्टल के माध्यम से सीधे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यालय को मामले से आवगत कराया है। आरोप है कि ठेकेदार ने एसएम की शिकायत करने के लिए एक व्यूह रचना की है। ठेकेदार ने एसएम के खिलाफ जौनपुर के सांसद से शिकायत की है। जौनपुर के सांसद की ओर से एसएम के खिलाफ ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी को शिकायती पत्र भेजा गया है। आरोप है कि यह ठेकेदार अपनी ऊंची पहुंच के चलते ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी में अपना रुतबा अधिकारियों पर डालता है। रुतबे के चलते ही कई सालों से वाटर सप्लाई के मेंटिनेंस का टेंडर लेकर वारे-न्यारे करने में लगा हुआ है। प्राधिकरण के तमाम अफसर परेशान हैं।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.