गौतमबुद्ध नगर पंचायत चुनाव: प्रचार हुआ खत्म, अब सोमवार सुबह पड़ेंगे वोट, जानिए प्रशासन कैसे करेगा मतपेटियों की निगरानी, पूरी जानकारी

प्रचार हुआ खत्म, अब सोमवार सुबह पड़ेंगे वोट, जानिए प्रशासन कैसे करेगा मतपेटियों की निगरानी, पूरी जानकारी

Tricity Today | गौतमबुद्ध नगर पंचायत चुनाव

  • - सोमवार की सुबह से वोट डाले जाएंगे
  • - रविवार को मतदान कराने के लिए पोलिंग पार्टियों को रवाना किया जाएगा
  • - मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य
  • - पंचायत चुनाव के लिए जिले को 3 जोन और 29 सेक्टर में बांटा गया
गौतमबुद्ध नगर में द्वितीय चरण 19 अप्रैल को होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का प्रचार आज शाम 5ः00 बजे खत्म हो गया है। अब रविवार को आराम और सोमवार की सुबह से वोट डाले जाएंगे। मतलब सभी उम्मीदवार अपनी-अपनी जोर आजमाइश कर चुके हैं अब वोटरों की बारी है। हालांकि, अब उम्मीदवार डोर टू डोर प्रचार कर रहे हैं।

उम्मीदवार मतदाताओं को अपने पक्ष में लेने की हर सम्भव कोशिश कर रहे हैं। गौतमबुद्ध नगर में सोमवार को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होना है। रविवार को मतदान कराने के लिए पोलिंग पार्टियों को रवाना किया जाएगा। शनिवार की शाम 5:00 बजे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के विभिन्न पदों पर चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों का प्रचार थम गया है। प्रत्याशियों ने डोर टू डोर अभियान शुरू कर दिया है। साथ ही इस डोर टू डोर अभियान के तहत उम्मीदवार मतदाताओं को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए हर कोशिश कर रहे हैं। 

वार्ड एक पर योगी आदित्यनाथ और भाजपा की लहर
सबसे पहले वार्ड नंबर-1 की बात करते हैं। वार्ड नंबर-1 वैसे तो अनुसूचित जाति की महिलाओं के लिए आरक्षित है, लेकिन यहां राजपूत ठाकुर बिरादरी के वोटरों का वर्चस्व है। लिहाजा, योगी आदित्यनाथ फैक्टर लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा है। वार्ड नंबर-1 से भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार मोहिनी हैं। मोहिनी अनुसूचित जाति परिवार की बेटी हैं और बिसाहड़ा गांव के ठाकुर परिवार की बहू हैं। इस निर्वाचन क्षेत्र से मिल रहे रुझानों के मुताबिक मोहिनी का जीतना लगभग तय है। मोहिनी को टक्कर देने के लिए समाजवादी पार्टी, आम आदमी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने उम्मीदवार खड़े किए हैं, लेकिन भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में वोटर एकतरफा नजर आ रहे हैं।

इन दो वार्ड में भाजपा और बसपा के बीच कांटे की टक्कर
गौतमबुद्ध नगर जिला पंचायत के दो वार्ड ऐसे हैं, जहां भारतीय जनता पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के उम्मीदवारों के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिल रही है। वार्ड नंबर-2 और वार्ड नंबर-4 पर भाजपा और बसपा उम्मीदवारों में से कौन जीतेगा, अभी यह कहना संभव नहीं है। वार्ड नंबर-2 से भारतीय जनता पार्टी ने गीता देवी को टिकट दिया है। बहुजन समाज पार्टी की ओर से पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जयवती नागर चुनाव लड़ रही हैं। गीता देवी के पति बबली नागर भारतीय जनता पार्टी के जिला उपाध्यक्ष हैं। इनके पक्ष में पूर्व मंत्री नवाब सिंह नागर, दादरी से विधायक तेजपाल नागर और पूर्व राज्यसभा सांसद सुरेंद्र नागर गांव-गांव जाकर वोट मांग रहे हैं। दूसरी ओर जयवती नागर के पक्ष में उनके पति गजराज नागर दादरी से पूर्व विधायक सतवीर गुर्जर और बसपा के तमाम दिग्गज नेता जोर लगाए हुए हैं।

जिला पंचायत के वार्ड नंबर-4 पर भी भारतीय जनता पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच कांटे की टक्कर है। भारतीय जनता पार्टी ने कोट गांव के पूर्व प्रधान सोनू को टिकट दिया है। बहुजन समाज पार्टी की ओर से अवनेश भाटी चुनाव लड़ रहे हैं। अवनेश भाटी समाजवादी पार्टी के एमएलसी नरेंद्र भाटी के भतीजे हैं। पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष बिजेंद्र भाटी के बेटे हैं। इन दोनों नेताओं के सामने जिले के किसी भी गुर्जर नेता के लिए टिकना आसान बात नहीं है। दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी ने सोनू प्रधान के साथ पूरा लाव लश्कर लगा रखा है।

इन दो निर्वाचन क्षेत्रों में सपा और भाजपा में कड़ा मुकाबला
गौतमबुद्ध नगर जिला पंचायत के वार्ड नंबर-3 और वार्ड नंबर-5 पर समाजवादी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के बीच कड़ा मुकाबला देखने के लिए मिल रहा है। वार्ड नंबर-3 से भारतीय जनता पार्टी ने देवा भाटी को उम्मीदवार बनाया है। जबकि समाजवादी पार्टी-राष्ट्रीय लोकदल गठबंधन ने मुकेश सिसोदिया को मैदान में खड़ा किया है। दोनों उम्मीदवारों के बीच कांटे की टक्कर है। इसी तरह वार्ड नंबर-5 पर सपा-रालोद गठबंधन के उम्मीदवार और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रविंद्र भाटी लडपुरा भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार अमित चौधरी को कड़ी टक्कर दे रहे हैं। अमित चौधरी गौतमबुद्ध नगर भारतीय जनता पार्टी के महामंत्री हैं। अमित के पक्ष में जेवर से विधायक ठाकुर धीरेंद्र सिंह और गौतमबुद्ध नगर के सांसद डॉ महेश शर्मा समेत तमाम दिग्गज नेता खड़े हैं। दूसरी ओर रविंद्र भाटी का क्षेत्र में अच्छा प्रभाव है। वह और उनकी पत्नी पूर्व में इस क्षेत्र से जिला पंचायत सदस्य रह चुके हैं।

कुल मिलाकर इन चारों निर्वाचन क्षेत्रों में कौन जीतेगा और कौन हारेगा, यह अभी कहना संभव नहीं है। आने वाले दो-तीन दिनों में चुनाव प्रचार और तेजी पकड़ेगा। जिसकी बदौलत समीकरणों में बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है। एक बात भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में अच्छी जा रही है कि पांचों निर्वाचन क्षेत्रों में भाजपा उम्मीदवार मजबूत पकड़ बनाए हुए हैं। ऐसे में परिणाम भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में जाए तो कोई चौंकाने वाली बात नहीं होगी।

आपको बता दें कि गौतमबुद्ध नगर जिला पंचायत उत्तर प्रदेश में सबसे छोटी जिला पंचायत है। यहां केवल 5 वार्ड हैं। जिस राजनीतिक दल के खाते में 3 जिला पंचायत सदस्य होंगे। वह जिला पंचायत अध्यक्ष बनाने में कामयाब हो जाएगा। दूसरी खास बात यह है कि गौतमबुद्ध नगर जिला गठित होने से लेकर अब तक भारतीय जनता पार्टी कभी जिला पंचायत पर काबिज नहीं हो पाई है। इससे पहले हुए पंचायत चुनाव में बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के जिला पंचायत अध्यक्ष रहे हैं। यह पहला मौका है, जब भारतीय जनता पार्टी गौतमबुद्ध नगर में जिला पंचायत पर कब्जा कर सकती है।

जिला प्रशासन की तैयारी पूरी हुई 
जनपद गौतमबुद्ध नगर में पंचायत चुनाव दूसरे चरण में 19 अप्रैल को किया जाना है। पंचायत चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो इसके लिए जिला प्रशासन ने भी खास तैयारी की है। जिला प्रशासन ने इस बार जनपद में कोई भी बूथ सामान्य श्रेणी में नहीं रखा है। इससे साफ हो गया है कि मतदान केंद्रों पर सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम रहेंगे। जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि इस बार जनपद गौतमबुद्ध नगर में 59 संवेदनशील, 45 अति संवेदनशील और 28 अतिसंवेदनशील प्लस बूथ बनाए गए हैं। इन सभी मतदान केंद्रों पर ड्रोन कैमरा से नजर रखी जाएगी। इसके अलावा सभी बूथों पर वीडियोग्राफी कराई जाएगी। ताकि वहां पर होने वाली हर गतिविधि कैमरों की निगरानी में रहे। 

कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करेंगे उम्मीदवार 
अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व वंदिता श्रीवास्तव ने बताया कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते ग्राफ को देखते हुए निर्वाचन आयोग ने गाइडलाइन जारी की हैं। मतदान कर्मियों को आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना होगा। वहीं पर्चा दाखिल करते समय उम्मीदवारों को मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य रूप से करना होगा। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व वंदिता श्रीवास्तव ने बताया कि जनपद में 88 प्रधान, 1114 वार्ड संख्या, 119 बीडीसी और पांच जिला पंचायत सदस्य का चुनाव होना है। पंचायत चुनाव के लिए जिले को 3 जोन और 29 सेक्टर में बांटा गया है। सेक्टर की जिम्मेदारी सेक्टर प्रभारी के हाथों में सौंप दी गई है।

18 अप्रैल को टीमें रवाना होंगी
अनिल कुमार सिंह ने कहा कि 18 अप्रैल, रविवार को जनपद गौतमबुद्ध नगर के जेवर, बिसरख और दादरी ब्लॉक से पोलिंग पार्टियों को उनके बूथों पर रवाना किया जाएगा। इसके लिए सभी तैयारियां कर ली गई हैं।

107 वाहन लगाए जाएंगे
सिंह ने कहा कि पोलिंग पार्टियों को मतदान बूथ तक पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन ने 107 वाहनों को हायर किया है। इनमें से कुछ वाहन रिजर्व में रहेंगे। ताकि आपातकालीन जरूरत पड़ने पर इनका प्रयोग किया जा सके। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए जिले में बैलेट पेपर पहुंच चुके हैं। जिन्हें मतदान प्रक्रिया को पूरा कराने में जुटे अधिकारियों एवं कर्मचारियों को दे दिया गया है। ताकि वह इनका भली-भांति अध्ययन कर सकें।

सुरक्षा कड़ी रहेगी
सिंह ने बताया कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए जनपद के जेवर ब्लॉक में स्थित जनता इंटर कॉलेज, बिसरख ब्लॉक के लिए दादरी में स्थित मिहिर भोज इंटर कॉलेज और दादरी ब्लॉक के लिए अग्रसेन इंटर कॉलेज को स्ट्रांग रूम बनाया गया है। स्ट्रांग रूम पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। किसी भी स्थिति में कोई गैर-कानूनी गतिविधि नहीं होने दी जाएगी।

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.