ग्रेटर नोएडा के 85 गांवों में 6526 लोगों की जांच, 103 लोग पाॅजीटिव मिले

कोरोना का कहर : ग्रेटर नोएडा के 85 गांवों में 6526 लोगों की जांच, 103 लोग पाॅजीटिव मिले

ग्रेटर नोएडा के 85 गांवों में 6526 लोगों की जांच, 103 लोग पाॅजीटिव मिले

Tricity Today | कोरोना का कहर

ग्रेटर नोएडा के 85 गांवों में 6526 लोगों की जांच, 103 लोग पाॅजीटिव मिले ग्रेटर नोएडा के गांवों में कोरोना वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है। जिले के काफी गांवों में हालत काफी बेकार होती जा रही है। दादरी क्षेत्र के काफी गांवों में पिछले दिनों कोरोना से सैकड़ों लोगों की मौत हुई है। लेकिन स्वास्थ विभाग के आकड़ों में कोरोना से कुल 10 प्रतिशत की मौत हुई है। ज्यादातर मौत सामान्य बीमारी से हुई है। बिसरख ब्लाक के 46 गांवों में 2703 लोगों की जांच की गई। जिसमें 80 लोग संक्रमित पाए गए है। दादरी ब्लाक के 39 गांवों में 3823 लोगों की जांच में 103 लोगों संक्रमित पाए गए हैं।

इन गांवों में ज्यादा बुरा हाल
पिछले दो सप्ताह पहले कचैड़ा वारसाबाद, खैरपुर गुर्जर, कैलाशपुर, दुजाना, जलालपुर समेत कई गांवों में कोरोना संक्रमण से सैकड़ों लोगों की मौत हुई थी। दुजाना गांव में एक दिन में 14 लोगों की कोरोना से मौत होने की सूचना दी गई थी। इस प्रकार का एक वीडियो तेजी से वायरल होने से लोगों में भय की स्थिति बन गई। जिससे क्षेत्र में स्थिति और बिगड़ती चली गई। अब स्वास्थ विभाग की दो दर्जन से अधिक टीमों ने गांव गांव जाकर जांच पड़ताल की है। जिससे पता चला है की मरने वालों लोगों पर कोरोना पाॅजिटिव की कोई रिपोर्ट नहीं थी। अन्य बिमारियों के कारण मौत हुई है।

एसडीएम आलोक कुमार गुप्ता ने दी अलग ही जानकारी
एसडीएम आलोक कुमार गुप्ता ने बताया कि कुछ लोगों द्वारा प्रायोजित तरह से कोरोना से मौत होने की वीडियो वायरल की थी। क्षेत्र में माहौल बिगाड़ने के लिए ऐसा प्रयास किया गया। अब ऐसे लोगों पर कारवाई की जायेगी। इस मामले की हकीकत जानने के लिए स्वास्थ विभाग की टीम इन गांवों में कोरोना की जांच कर रही है। बिसरख ब्लाॅक के 46 गांवों में 2703 लोगों की जांच की गई। जिनमें केवल 80 लोग संक्रमित पाए गए। वहीं दादरी ब्लाॅक के 39 गांवों में 3823 लोगों की जांच की गई जहां 103 लोगों संक्रमित पाए गए।

जलालपुर गांव में 18 लोगों की मौत, एक ही दिन दो सगे भाइयों का निधन
बीते रविवार को ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित जलालपुर गांव में रहने वाले अतर सिंह के बेटे पंकज की अचानक मौत हो गई। बेटे को मुखाग्नि देकर घर पहुंचे ही थे कि दूसरे बेटे दीपक ने दम तोड़ दिया। ग्रामीणों ने बताया कि पिछले 10 दिनों में गांव मे 6 महिलाओं समेत 18 लोगों की मौत हो चुकी है। 28 अप्रैल को मौतों का सिलसिला शुरू हुआ था। यह अब तक जारी है। गांव के निवासी अनिल नगर ने बताया कि उनके परिवार में उनके चाचा ऋषि नागर का अचानक देहांत हो गया। उसी दिन उनके बेटे की भी मौत हो गई। ज्यादातर लोगों की मौत घरों में हुई है। गांव वालों के मुताबिक सभी को पहले बुखार आया। फिर ऑक्सीजन लेवल घटता चला गया। लगातार हो रही मौतों से गांव वाले दहशत में हैं।

 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.