जिला पंचायत ने बकायेदारों के खिलाफ खोला मोर्चा, वसूले लाखों रुपए

ग्रेटर नोएडा : जिला पंचायत ने बकायेदारों के खिलाफ खोला मोर्चा, वसूले लाखों रुपए

जिला पंचायत ने बकायेदारों के खिलाफ खोला मोर्चा, वसूले लाखों रुपए

Tricity Today | जिला पंचायत अधिकारी धर्मजीत त्रिपाठी

जिला पंचायत ने बकायेदारों के खिलाफ खोला मोर्चा, वसूले लाखों रुपए Greater Noida : टैक्स बकायेदारों के खिलाफ जिला पंचायत विभाग ने कड़ा रूख अख्तियार कर लिया है। लंबे समय से सर्किल प्रॉपर्टी टैक्स (संपत्ति कर) का भुगतान नहीं करने वाले फैक्ट्रियों के खिलाफ रिकवरी सर्टिफिकेट (आरसी) जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई। गौतमबुद्धनगर के जिला पंचायत अधिकारी धर्मजीत त्रिपाठी ने अब तक 46 फैक्ट्रियों एवं संपत्तियों के खिलाफ आरसी की कार्यवाही करते हुए जिला प्रशासन को सूची भेज दी है। जिला प्रशासन तहसील के माध्यम से बकायेदारों से बकाया की वसूली करेगा। यदि बकायेदारों द्वारा बकाया टैक्स का भुगतान नहीं किया जाता है तो उनकी संपत्ति कुर्क कर वसूली की जाएगी।

जिला पंचायत द्वारा काटे गए 49 चालान
पंचायत विभाग की टीम मौके पर जाकर प्रॉपर्टी टैक्स की वसूली कर रही है। पिछली कुछ दिनों में कार्रवाई करते हुए जिला पंचायत द्वारा 49 चालान काटे गए और इनसे लगभग 5 लाख 51 हजार की वसूली की गई। जिला पंचायत अधिकारी ने लोगों से अपील की है। जिन्होंने सीपी टैक्स का अभी तक भुगतान नहीं किया है, जल्द भुगतान कर दें। सीपी टैक्स जमा नहीं कराने वालों के खिलाफ जिला पंचायत का अभियान जारी रहेगा। शासन के निर्देशानुसार जिला पंचायत में कर, लाइसेंस और रोपित कर, संपत्ति एवं विभव का किराया आदि वसूली की कार्रवाई तेज कर दी गई।

वसूली के लिए अभियान जारी
पंचायत विभाग द्वारा लोगों को ऑनलाइन भुगतान का भी विकल्प दिया गया है। विभाग द्वारा चालू वित्तीय वर्ष के सीपी टैक्स, किराया इत्यादि की वसूली के साथ पुराना बकाया वसूली के लिए भी अभियान चलाया जा रहा है। टैक्स एवं किराया वसूलने में लगे टीम मौके पर जाकर चालान काट रही है, इसके अलावा विभाग द्वारा ऐसे बकायेदारों की सूची तैयार की गई जिन पर लंबे समय से टैक्स एवं किराया बकाया है। ऐसे बकायेदारों को पूर्व में नोटिस जारी कर बकाया भुगतान करने के लिए कहा था। दादरी क्षेत्र में लगभग 46 फैक्ट्री, स्कूल फॉर्म हाउस, गैस गोदाम इत्यादि है। जिन्होंने नोटिस के बाद भी बकाया का भुगतान नहीं किया इन बकायेदारों पर जिला पंचायत विभाग का सीपी टैक्स एवं किराया के मध्य में लगभग 5 लाख 40 हजार 5 हजार रुपए बकाया है।

Copyright © 2021 - 2022 Tricity. All Rights Reserved.