किसानों ने यमुना एक्सप्रेसवे और नोएडा एक्सप्रेसवे पर जाम लगाया, हिसार में लाठीचार्ज का विरोध

BIG BREAKING : किसानों ने यमुना एक्सप्रेसवे और नोएडा एक्सप्रेसवे पर जाम लगाया, हिसार में लाठीचार्ज का विरोध

किसानों ने यमुना एक्सप्रेसवे और नोएडा एक्सप्रेसवे पर जाम लगाया, हिसार में लाठीचार्ज का विरोध

Tricity Today | किसानों ने यमुना एक्सप्रेसवे और नोएडा एक्सप्रेसवे पर जाम लगाया

किसानों ने यमुना एक्सप्रेसवे और नोएडा एक्सप्रेसवे पर जाम लगाया, हिसार में लाठीचार्ज का विरोध Farmers Protest : हरियाणा के हिसार में किसानों पर पुलिस के लाठीचार्ज का विरोध करते हुए गौतमबुद्ध नगर के किसानों ने यमुना एक्सप्रेसवे (Yamuna Expressway) और नोएडा एक्सप्रेसवे (Noida Expressway) पर जाम लगा दिया है। बड़ी संख्या में किसान यमुना एक्सप्रेसवे के जीरो पॉइंट और नोएडा एक्सप्रेसवे पर सफीपुर गांव के पास ट्रैफिक जाम करके बैठे हुए हैं। सूचना मिलने पर नोएडा और ग्रेटर नोएडा से भारी पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचा है। पुलिस अधिकारियों ने किसानों को समझाया। इसके बाद किसानों ने प्रधानमंत्री के नाम एडिशनल डीसीपी को ज्ञापन सौंपा है। किसानों ने चक्का जाम खत्म कर दिया है, लेकिन करीब आधे घंटे तक चले इस हंगामे की वजह से दोनों एक्सप्रेसवे पर भारी ट्रैफिक जाम लग गया है। लोगों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

आपको बता दें कि रविवार को केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ हरियाणा के किसान हिसार में प्रदर्शन करने पहुंचे थे। वहां पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज किया। जिसमें कई किसानों को गंभीर चोट आई हैं। यह जानकारी जैसे ही गौतमबुद्ध नगर पहुंची, बड़ी संख्या में किसान यमुना एक्सप्रेसवे के जीरो पॉइंट और नोएडा एक्सप्रेसवे पर सफीपुर गांव के सामने पहुंच गए। किसानों ने दोनों एक्सप्रेसवे जाम कर दिए। केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। 

किसानों ने दोनों एक्सप्रेसवे पर ट्रैफिक रोक दिया। हालांकि, लॉकडाउन की वजह से सामान्य दिनों के मुकाबले काफी कम संख्या में वाहनों का आवागमन हो रहा है, लेकिन इसके बावजूद दोनों एक्सप्रेसवे पर लंबा ट्रैफिक जाम लग गया। सूचना मिलते ही नोएडा और ग्रेटर नोएडा से बड़ी संख्या में फोर्स मौके पर पहुंचा। ग्रेटर नोएडा के एडिशनल डीसीपी किसानों से मिलने पहुंचे। किसानों को समझाया। उनसे अपील की कि आम आदमी को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। रात का वक्त है। एक्सप्रेसवे को बहाल कर दीजिए। इस पर किसानों ने आपस में बातचीत की और एडिशनल डीसीपी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम एक ज्ञापन सौंपा। 

किसानों ने ज्ञापन में लिखा है कि तीनों कृषि कानून खेती-किसानी को बर्बाद कर देंगे। इन्हें वापस लेने के लिए कई महीने से देश भर के किसान आंदोलन कर रहे हैं। आपकी सरकार किसानों की मांगों पर विचार करने के लिए तैयार नहीं है। ऐसे में विरोध करना किसानों का लोकतांत्रिक अधिकार है। इस लोकतांत्रिक अधिकार को हरियाणा की सरकार कुचलना चाहती है। हिसार में किसानों पर पुलिस ने बर्बरता पूर्ण लाठीचार्ज किया है। जिसमें बड़ी संख्या में किसान घायल हुए हैं। हम इस कृत्य का विरोध करते हुए कानूनों को वापस लेने की मांग करते हैं। एडिशनल डीसीपी को ज्ञापन सौंपने के बाद किसानों ने यमुना एक्सप्रेसवे और नोएडा एक्सप्रेसवे को खाली कर दिया है। 

गौतमबुद्ध नगर ट्रैफिक पुलिस यातायात को सामान्य करने में जुटी है। ट्रैफिक पुलिस का कहना है कि अगले आधे घंटे में दोनों एक्सप्रेसवे पर यातायात पूरी तरह सामान्य हो जाएगा।

 

अन्य खबरे

Copyright © 2020 - 2021 Tricity. All Rights Reserved.